स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

नानी के साथ नहर में नहा रही मासूम का पैर फिसला, फिर तेज धार में बहने लगी मासूम, दो युवकों ने नहर में कूदकर बचाई जान

Vasudev Yadav

Publish: Sep 15, 2019 18:10 PM | Updated: Sep 15, 2019 18:10 PM

Janjgir Champa

नानी के साथ नहर में नहाने गई थी बच्ची का अचानक पैर फिसल जाने से बह गई। नानी की नजर पड़ते ही वह चींखने चिल्लाने लगी। इसके बाद...

जांजगीर-पकरिया. मुलमुला थानांतर्गत ग्राम पंचायत पकरिया झूलन मेन रोड पर नहर पुल के पास रविवार की सुबह करीब 12 बजे अपनी नानी के साथ नहा रही मासूम बह गई। इस पर गांव के युवकों की नजर पड़ी। उन्होंने अपनी जान को दांव पर लगाकर मासूम बच्ची को नहर से निकाल लिया है। मासूम के सुरक्षित निकलने के बाद परिजनों ने राहत की सांस ली है।

रविवार की सुबह उस वक्त अफरा-तफरी का आलम था जब 55 वर्षीय महिला के साथ उसकी नातिन नहर में स्नान कर रही थी तभी अचानक मासूम का पांव फिसल गया। इससे मासूम नहर की धार में बह गई। नहर के पानी के तेज बहाव होने के कारण बच्ची नहर के अंदर ही अंदर बहते हुए पुल के पास पहुंच गई।

Read More: डीजे वाले बाबू को कहा गाना बजाओ, फिर कुछ युवकों ने एक युवक की कर दी धुनाई, अपराध दर्ज

इधर जैसे ही बच्ची की नानी की नजर नहर पर बहती हुई अपनी नातिन पर पड़ी तो वह और साथ में नहा रही उसकी बहु दोनों ही नहर से सड़क पर चिल्लाते रोते हुए सड़क पर आ गईं। वहां पर नहाने के लिए खड़े पकरिया निवासी सूरज मनहर एवं धीरेन्द्र डहरिया को आप बीती सुनाई तब दोनों युवकों ने अपने जान की परवाह किए बगैर नहर में छलांग लगाकर मासूम बच्ची को बाहर निकाल दिया।

बच्ची के पेट में पानी भर गया था। साथ ही नहर में डूबने की वजह से बच्ची के शरीर में मामूली चोट आई है। मासूम की मां व उसकी नानी ने बच्ची के शरीर में लगी चोट में मरहम लगाया। मौके पर लोगों की भीड़ जुट गई थी। वहीं बच्ची को घटना के तुरंत बाद उपचार के लिए डॉक्टर के पास ले गए। जहां डॉक्टर ने मासूम बच्ची को खतरे से बाहर बताया है। घटना के बाद बच्ची सहमी हुई है।

Click & Read More : Chhattisgarh News