स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

पत्नी और 2 बेटियों की हत्या करने के बाद युवक ने लगा ली फांसी, सुसाइड नोट में बताया क्यों किया ऐसा?

Prateek Saini

Publish: Aug 12, 2019 17:09 PM | Updated: Aug 12, 2019 17:09 PM

Jamshedpur

Jharkhand News: पुलिस ( Jharkhand Police ) को मौके से एक सुसाइड नोट मिला है जो यह खुलासा कर रहा है कि क्यों युवक यह सब करने पर मजबूर हुआ। इधर एक ही परिवार के चार लोगों के शव मिलने से गढ़वा ( Garhwa Jharkhand ) जिले में सनसनी फैल गई...

(गढ़वा,जमशेदपुर): झारखंड के गढ़वा जिले में एक ही परिवार के चार लोगों के शव मिलने से सनसनी फैल गई। बताया जा रहा है कि परिवार के मुखिया ने अपनी पत्नी और बच्चों को जान से मारने के बाद खुद फांसी लगा ली। पुलिस ( jharkhand police ) मामले की जांच पूरी होने से पहले कुछ भी कहने से बच रही है। लेकिन मौके से एक सुसाइड नोट ( Suicide Note ) मिला है जो इस बात का खुलासा कर रहा है कि क्यों एक पिता अपने बच्चों को मारने पर मजबूर हुआ, और अपने ही हाथों अपनी हमसफर को क्यों मौत के घाट उतार दिया?...


कैंसर से पीड़ित था परिवार का मुखिया

 

Jharkhand News

घटना के संबंध में मिली जानकारी के अनुसार गढ़वा जिले के धुरकी थाना अंतर्गत रक्सी गांव के हरठवा टोला में रहने वाला शिव कुमार ( 30 वर्ष ) कैंसर ( Cancer ) से पीड़ित था। यह उसकी मानसिक परेशानी की बड़ी वजह थी। बताया गया है कि इलाज के लिए उसके पास पर्याप्त पैसे नहीं थे, इसलिए पत्नी से बार-बार झगड़ा होता रहता था। सोमवार को उसे इलाज के लिए रांची आना था। लेकिन उसके पास पैसे नहीं थे। वहीं कुछ गांव वालों का कहना है कि उस पर पांच लाख रूपए का कर्ज भी था।


यूं दिया घटना को अंजाम

Jharkhand News

शिव कुमार कैंसर और पैसों की तंगी के चलते तनाव में रहता था। तनाव में ही उसने रविवार की रात को पहले अपनी पत्नी बबिता कुमारी (26 साल) और पुत्री तान्या कुमारी (10 साल) और श्रेया कुमारी (आठ साल) की हत्या की, इसके बाद खुद फांसी लगा ली। पत्नी की हत्या के बाद उसने शव को कुएं में डाल दिया था। बच्चे का शव कुएं के पास था। जबकि उसका शव घर के बगल में स्थित अमरूद के पेड़ में फांसी पर झूलता मिला।


यूं हुआ खुलासा

Jharkhand News

सोमवार सुबह जब शिव कुमार की मां उसके घर गई तो उसके घर का दरवाजा खुला था। घर से थोड़ी दूर स्थित अमरुद के पेड़ पर उसका शव झूल रहा था। मां के रोने और चिल्लाने पर जमा हुए गांव के लोगों ने परिवार के अन्य सदस्यों की खोजबीन की। शुरुआत में केवल शिवकुमार एवं एक बच्ची का शव बरामद हुआ। एक बच्ची एवं पत्नी गायब थी। घटना को देखकर लोगों को आशंका हुई कि कही पत्नी एवं बच्चे की भी हत्या तो नहीं कर दी गई है। लोगों ने इस लिहाज से आसपास के कुएं में खोजबीन की,तो दूसरी बच्ची एवं पत्नी का शव कुआं में मिला।


पुलिस मौन , सुसाइड नोट ने खोला राज

Jharkhand News

इस संबंध में पुलिस ने अभी कुछ भी कहने से इन्कार कर दिया है। पुलिस अधिकारियों का कहना है कि जांच पूरी होने के बाद ही वह कुछ कह पाएंगे। लेकिन पुलिस को घर से एक सुसाइड नोट भी बरामद किया गया है, जिसमें परिवार के मुखिया शिवकुमार ने आपसी सहमति से घटना को अंजाम देने की बात कही है।

झारखंड की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: सऊदी अरब में कंपनी ने यूं बनाया था बंधक, ईद पर घर पहुंचा मुफीज तो बहनों ने बांधी राखी