स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हिमाचल में ओलावृष्टि-बर्फबारी की चेतावनी- कई मार्ग ठप्प

Yogendra Yogi

Publish: Nov 05, 2019 19:06 PM | Updated: Nov 05, 2019 19:06 PM

Jammu

मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में ओलावृष्टि और बर्फबारी का अलर्ट जारी किया है। विभाग ने प्रदेश में कई क्षेत्रों में मौसम के खराब होने की सूचना जारी की है। इसकी अवधि 8 नवंबर तक बताई गई है।

शिमला। मौसम विभाग ने हिमाचल प्रदेश में ओलावृष्टि और बर्फबारी का अलर्ट जारी किया है। विभाग ने प्रदेश में कई क्षेत्रों में मौसम के खराब होने की सूचना जारी की है। इसकी अवधि ८ नवंबर तक बताई गई है। विभाग के मुताबिक रोहतांग दर्रा ओर कुंजुम दर्रा में डेढ़ से दो फीट तक बर्फबारी दर्ज की गई है। बर्फबारी के चलते मनाली-ग्रांफू-काजा मार्ग बंद कर दिया गया है। सोमवार सुबह से ही बीआरओ की मशीन ने रोहतांग से बर्फ हटाने का कार्य आरंभ कर दिया है। मनाली-लेह राष्ट्रीय उच्च मार्ग में पडऩे वाले रोहतांग, बारालाचा और तंगलगंला पर भारी बर्फबारी से यातायात पूरी तरह से ठप हो गया है।

तापमान में गिरावट
बर्फबारी से क्षेत्र के तापमान में दो से तीन डिग्री गिरावट दर्ज की गई है। कई क्षेत्रों में छह और सात नवंबर को बारिश, ओलावृष्टि और बर्फबारी का ऑरेंज अलर्ट जारी हुआ है। मौसम विज्ञान केंद्र शिमला ने आठ नवंबर तक पूरे प्रदेश में मौसम खराब रहने का पूर्वानुमान जताया है। कोकसर में तीन दर्जन छोटे-बड़े वाहन फंस गए हैं। राजधानी शिमला में सोमवार को दिन भर बादल छाए रहे। मौसम में आए इस बदलाव से अधिकतम तापमान में दर्ज दो से तीन डिग्री की कमी दर्ज हुई है।

चंबा-तीसा मार्ग बंद
लाहौल की चंद्राघाटी में रविवार दिनभर जहां झमाझम बारिश हुई वहीं रविवार रात बर्फ के फाहे गिरने से रोहतांग के साथ चंद्राघाटी के रिहायशी इलाके बर्फ से सफेद हो गए। सिस्सू और खांगसर और गोंधला पंचायत में भी हल्का बर्फबारी हुई। उधर, धौलाधार की पहाडिय़ों पर भी हल्की बर्फबारी हुई है। पांगी-भरमौर की ऊपरी चोटियों में भी बर्फबारी हुई है। चंबा-तीसा वाया साच पास मार्ग भी बर्फबारी के बाद बंद हो गया है। अब चंबा से पांगी जाने वाले लोगों को जम्मू होकर गुजरना होगा।

स्पीति में यातायात प्रभावित
मनाली की तरफ से राहनीनाला के पास एचआरटीसी की एक बस ब्रेकडाउन हुई है, लेकिन सभी यात्रियों को रविवार को ही सुरक्षित निकाला गया है। मनाली-काजा मार्ग बंद होने से अब स्पीति घाटी के लोगों को वाया रामपुर और शिमला होकर मनाली का रुख करना पड़ेगा।

[MORE_ADVERTISE1]