स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

कश्मीर: मोबाइल की घंटी बजी तो SMS पर लगी रोक, प्रशासन ने दिया यह तर्क

Prateek Saini

Publish: Oct 15, 2019 20:56 PM | Updated: Oct 15, 2019 20:56 PM

Jammu

घाटी में पोस्टपेड सेवा (Postpaid Service In Kashmir) शुरू हुए केवल एक ही दिन हुआ था कि सरकार ने SMS (SMS Service In Kashmir) पर रोक लगा दी, (Jammu And Kashmir News) इसके पीछे कारण है कि...



(जम्मू): कश्मीर घाटी के सभी 10 जिलों में सोमवार को 70 दिन बाद पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवा शुरू होने में अभी 24 घंटे भी नहीं बीते थे की सरकार ने लोगों के लिए (SMS) सेवा पर फिर से रोक लगा दी है। प्रशासन का तर्क है कि एसएमएस का फायदा उठाकर राष्ट्र विरोधी तत्व घाटी में बने शांति के माहौल को खराब कर सकते हैं।


बता दें कि घाटी में पोस्टपेड मोबाइल फोन सेवा (Postpaid Mobile Phone) शुरू होते ही आतंकियों ने घाटी को दहलाने की नापाक कोशिशि की थी। यहां दक्षिणी कश्मीर के शोपियां जिले में आतंकियों ने सेब लाद रहे एक ट्रक के चालक की गोली मारकर हत्या कर दी। इसके बाद ट्रक को आग लगा दी। ट्रक के खलासी का फिलहाल पता नहीं चल पाया है। घटना के बाद सुरक्षा बलों ने पूरे इलाके को घेरकर तलाशी अभियान चलाया है। जिले के सिंधु सरमाल इलाके में हुई इस घटना में एक पाकिस्तानी समेत दो आतंकी शामिल थे।


बताते हैं कि राजस्थान नंबर की ट्रक एक सेब के बगीचे से सेब लाद रहा था। इसी दौरान पहुंचे आतंकियों ने पहले तो बगीचे की मालिक की पिटाई की। चालक तथा खलासी का अपहरण कर लिया। चालक को गोली मारकर हत्या कर दी। उसके पेट में तीन गोलियां लगने की बात सामने आ रही है। इसके बाद ट्रक में आग लगा दी। चालक की शिनाख्त शरीफ खान के रूप में हुई है।


जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: प्रतिबंधों के बीच कश्मीरियों को हुआ BSNL से प्यार!, पोस्टपेड सेवा बहाली के बाद भी लैंडलाइन हुए जरूरी