स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गुब्बारे के साथ आया जम्मू में फिदायीन हमले का संदेश, सुरक्षा एजेंसियां हुई सतर्क

Prateek Saini

Publish: Dec 01, 2019 21:14 PM | Updated: Dec 01, 2019 21:14 PM

Jammu

संदेश में जो बात लिखी है वह चिंताजनक है, खुफिया एजेंसियों और सुरक्षाबलों (Fidayeen Attack Warning In Jammu) ने मोर्चा संभाल (Terrorists Attack In Jammu And Kashmir) लिया है...

(जम्मू): जम्मू-कश्मीर में हालात सामान्य बनाए रखने के लिए 24 घंटे सतर्क रहने वाले सुरक्षाबलों को तब झटका लगा जब उन्हें जम्मू में फिदायीन हमले के धमकी भरे संदेश के बारे में जानकारी मिली। यह बात सामने आने के बाद से खुफिया एजेंसियां सतर्क हो गई हैं वहीं सुरक्षा एजेंसियों ने भी मोर्चा संभाल लिया है।


यह भी पढ़ें: पाकिस्तानी हवा भी निभा रही दुश्मनी, जम्मू-कश्मीर में बढ़ी लोगों की मुश्किल

 

हुआ यूं कि छन्नी हिम्मत इलाके में नायब तहसीलदार के कार्यालय के पास रिटायर्ड प्रिंसिपल चंद्रशेखर के घर में गमलों के बीच में शनिवार को एक संदिग्ध गुब्बारा मिला। इस गुब्बारे के धागे से एक छोटी सी डायरी बंधी थी। इस डायरी में अंग्रेजी भाषा में फिदायीन हमले की धमकी से भरा संदेश लिखा था। इसमें लिखा था कि ''भाई मूसा की मौत का बदला लेंगे और जम्मू में फिदायीन हमला करेंगे।'' तुरंत पुलिस को सूचना दी गई।

 

यह भी पढ़ें: Video: सब सोते रहे, कमरे में सैर करता रहा तेंदुआ, लोगों ने यूं बचाई जान

 

शनिवार को पुलिस मामले की जांच में जुट गई। रविवार को भी सुरक्षा के लिहाज से कई एजेंसियों ने क्षेत्र का दौरा किया। जिस घर से गुब्बारा मिला उस परिवार से पूछताछ की गई। पुलिस ने इलाके में सीसीटीवी खंगाले, ताकि पता लगाया जा सके कि किस दिशा से यह गुब्बारा आया। पुलिस ने कुछ गुब्बारे बेचने वालों की जानकारी भी जुटाई। पता किया कि शनिवार को क्षेत्र में कोई गुब्बारे बेचने आया था या नहीं। सुरक्षा और खुफिया एजेंसियां पूरी तरह से इस मामले पर नजर गड़ाए हुए है।

 

यह भी पढ़ें: जानकार और उसके दोस्तों ने किया नाबालिग से गैंगरेप, रिश्तेदार महिला भी साजिश में शामिल!

एसएचओ रत्न सिंह का कहना है कि एक डायरी के छोटे से पेज पर संदेश लिखा मिला है। यह किसी की शरारत है। पुलिस मामले की जांच कर रही है। सारा इलाका वीआईपी है। आसपास के घरों में सीसीटीवी फुटेज खंगाले जा रहे हैं।

 

यह भी पढ़ें: हैदराबाद गैंग रेप केस: केंद्रीय महिला आयोग ने लताड़ा,'एक्शन के समय कार्यक्षेत्र को लेकर उलझी पुलिस'

 

[MORE_ADVERTISE1]गुब्बारे के साथ आया जम्मू में फिदायीन हमले का संदेश, सुरक्षा एजेंसियां हुई सतर्क[MORE_ADVERTISE2]

बता दें कि हार्डकोर आतंकी जाकिर मूसा इसी साल सुरक्षाबलों के साथ मुठभेड़ में मारा गया था। मूसा आतंकी संगठन हिजबुल मुजाहिदीन का पूर्व कमांडर था। वह अलकायदा से जुड़े अंसार गजावत उल हिंद संगठन को चलाता था। 2013 में आंतकी गतिविधियों की शुरुआत करने वाला जाकिर 2016 में बुरहान वानी की मौत के बाद वह चर्चा में आया था।

जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: POK में आतंकियों के साथ हो रहीं 'पाक' की बैठकें, सोपोर में हथियार मिलने से साजिश नाकाम

[MORE_ADVERTISE3]