स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

ईद पर Modi का ग्रैंड प्लान, जम्मू-कश्मीर में मुहैया करवाई जाएंगी यह सुविधाएं

Prateek Saini

Publish: Aug 11, 2019 19:21 PM | Updated: Aug 11, 2019 19:21 PM

Jammu

Eid In Jammu Kashmir: केंद्र सरकार ( Modi Government ) की ओर से ईद ( Eid ul Adha ) को ध्यान में रखते हुए विशेष इंतजाम किए गए है...

(श्रीनगर): जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 को हटाने के बाद घाटी में हालात बिगड़ने की आशंका जताई जा रही थी। लेकिन अब सब सामान्य नजर आ रहा है। इधर केंद्र सरकार ( Modi government ) की ओर से ईद ( Eid ul Adha ) को ध्यान में रखते हुए विशेष इंतजाम किए गए है। जिसके तहत लोगों को जरूरत के सामान घर तक पंहुचाने के साथ ही ईद के पाक मौके पर अपनों से संपर्क बनाने के लिए टेलीफोन बूथ स्थापित करने का फैसला लिया गया है।

हालात हो रहे सामान्य, 144 में दी जा रही ढील


ईद पर विशेष व्यवस्था

जम्मू-कश्मीर नागरिक प्रशासन की ओर स? कश्मीर ?? संभाग में 3,697 राशन की दुकानों में से 3,557 दुकाने आम जनता के लिए खोल दी गई है। आम जन को किसी तरह की असुविधा नहीं हो इसके लिए मोबाइल वैन के जरिए सब्जियों, एलपीजी गैसे सिलेंडर, मुर्गी और अंडों की होम डिलीवरी की व्यवस्था की गई है।


पहले से किया गया स्टॉक

 

जम्मू-कश्मीर में हालात नियंत्रित करने के लिए सुरक्षाबलों तैनात है, किसी भी अप्रिय घटना से बचने के लिए ज्यादा संख्या में लोगों के बाहर निकलने पर प्रतिबंध भी लगाया गया है। हालांकि कोई आवश्यक काम होने पर बाहर निकलने और शुक्रवार के दिन सुरक्षा के बीच नमाज के लिए जुटने की छूट है। सरकार ने शायद कश्मीर के हालात को पहले ही भांप लिया था। इससे निपटने के लिए जम्मू-कश्मीर नागरिक प्रशासन की ओर से जरूरी चीजों का स्टॉक पहले से तैयार किया गया है।


इस बाबत 65 दिनों के लिए गेहूं, 55 दिनों के लिए चावल, 17 दिनों के लिए मटन, 1 महीने के लिए मुर्गी, 35 दिनों के लिए मिट्टी का तेल, 1 महीने के लिए एलपीजी, 28 दिनों के लिए हाई-स्पीड डीजल (एचएसडी) और पेट्रोल का स्टॉक किया गया है।


विशेष टेलीफोन बूथों की होगी स्थापना

सोमवार को बकरीद ( bakrid ) है। ऐसे में लोग इस असमंजस में थे कि ईद का त्यौहार वह किस तरह मनाएंगे। शुरूआती हालात को देखते हुए ऐसा लग रहा था कि ईद कहीं प्रभावित नहीं हो जाए। पर इस सिलसिले में भी सही व्यवस्था प्रशासन की ओर से की गई है। जम्मू और कश्मीर नागरिक प्रशासन 300 विशेष टेलीफोन बूथों की स्थापना करने की तैयारी में है जिससे लोग रिश्तेदारों के साथ संवाद स्थापित कर सकें। इसी के साथ दूसरे राज्यों में पढाई करने वाले छात्र अपने परिजनों से ईद के मौके पर बात कर सके यह व्यवस्था करने के लिए दिल्ली और अलीगढ़ सहित कई स्थानों पर अधिकारियों की नियुक्ति की गई है।


राज्यपाल ने दी शुभकामनाएं

ईद-उल-अजहा ''बकरीद'' से एक दिन पूर्व आज राज्यपाल सत्यपाल मलिक ( Satyapal Malik ) ने जम्मू-कश्मीर वासियों को हार्दिक बधाई दी और उनकी सलामती और समृद्धि की कामना की।


इस बार माहौल शांतिपूर्ण- जितेंद्र सिंह

उधमपुर लोकसभा सीट से सांसद और केंद्रीय मंत्री डॉक्टर जितेंद्र सिंह ( jitendra singh ) ने कहा कि आम आदमी अनुच्छेद 370 के निष्प्रभावी होने पर खुशी व्यक्त कर रहा है। उन्होंने यह भी कहा कि जहां कहीं धारा 144 लागू की गई है, उसे बंद किया जा रहा है। ईद की पूर्व संध्या पर, सिंह ने कहा कि ईद के बीते अवसरों की तुलना में इस बार माहौल शांतिपूर्ण बना हुआ है।


जम्मू-कश्मीर की ताजा ख़बरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें...

यह भी पढ़ें: जारी हुआ आदेश, 31 अक्टूबर को अलग होंगे जम्मू-कश्मीर व लद्दाख