स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मालगाड़ी के नीचे से निकलते युवक का हाथ कटा, मौत

Jitesh kumar Rawal

Publish: Nov 08, 2019 10:19 AM | Updated: Nov 08, 2019 10:19 AM

Jalore

www.patrika.com/rajasthan-news

नीचे से निकलने के दौरान मालगाड़ी रवाना हो गई, उसका एक हाथ कट गया। उसे ईलाज के लिए हॉस्पीटल ले जाते समय उसकी मौत हो गई


भीनमाल. रेलवे स्टेशन पर बुधवार शाम हो एक युवक को खड़ी मालगाड़ी के नीचे से पटरियां पार करना इतना महंगा पड़ गया, उसे जान से हाथ थोना पड़ा। मालगाड़ी के नीचे से निकलने के दौरान मालगाड़ी रवाना हो गई। नीचे आने से उसकी मौत हो गई। जीआरपी ने मामला दर्ज कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द किया।
आरपीएफ हैड कांस्टेबल चिमनाराम ने बताया कि गुजरात के धानेरा प्रगति सोसायटी निवासी दिनेश कुमार (37) पुत्र बाबूलाल नाई बीकानेर-दादर टे्रन के आगमन के समय रात में प्लेटफार्म के एक तरफ से दूसरी तरफ जाने के लिए खड़ी मालगाड़ी के नीचे से निकल रहा था। उस दौरान मालगाड़ी रवाना हो गई। उससे उसका एक हाथ कट गया। उसे ईलाज के लिए हॉस्पीटल ले जाते समय उसकी मौत हो गई। पुलिस ने मामला दर्ज कर पोस्टमार्टम के बाद शव परिजनों को सुपुर्द किया।


आर्थिक तंगी से परेशानी में जान दी
भीनमाल. रामसीन रोड रेलवे क्रॉसिंग के पास मिले शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सुपुर्द किया गया।
हैड कास्टेबल रमेश कुमार ने बताया कि नरसाणा निवासी गुलाबसिंह पुत्र पहाड़सिंह भोमिया राजपूत ने रिपोर्ट दर्ज करवाई कि उसका भाई गुमानसिंह (42) पुत्र पहाड़सिंह गांव में खेतीबाड़ी का काम करता था। आर्थिक तंगी व बैंक ऋण नहीं चुकाने से परेशान होकर जान दे दी। वह मंगलवार को घर से गायब हुआ था। बुधवार शाम को उसका शव मिला था।

सीएलजी सदस्यों के साथ चर्चा
जालोर. जिला स्तरीय सीएलजी सदस्यों की बैठक बुधवार को पुलिस लाइन सभागार में आयोजित की गई। इसमें विभिन्न मुददों पर चर्चा हुई।
जिला मजिस्टे्रट महेंद्र सोनी ने नागरिकों को जागरूक रहने एवं अफवाह से बचने की हिदायत दी। पुलिस अधीक्षक हिम्मत अभिलाष की अध्यक्षता रही। बैठक में जिला स्तरीय सीएलजी एवं शांति समिति के सदस्यों ने भाग लिया। आपसी परिचय के बाद आगामी दिनों में बहुचर्चित अयोध्या प्रकरण के सबंध में सुप्रीम कोर्ट की ओर से दिए जाने वाले फैसले के मद्देनजर विचार-विमर्श किया गया। संभावित कानून एवं शांति व्यवस्था के परिदृश्य पर चर्चा हुई। सदस्यों को सोशल मीडिया पर इस सबंध मे आपतिजनक पोस्ट डालने से बचने की हिदायत दी गई।

[MORE_ADVERTISE1]