स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जालोर में 595 करोड़ का मुआवजा बकाया, लटका रही बीमा कंपनियां

Jitesh kumar Rawal

Publish: Aug 14, 2019 11:28 AM | Updated: Aug 14, 2019 11:28 AM

Jalore

www.patrika.com/rajasthan.news


किसानों ने धरना देकर सुनाई समस्या, समाधान की मांग,विभिन्न मांगों को लेकर सौंपा ज्ञापन


जालोर. भारतीय किसान संघ की ओर से किसानों ने मंगलवार को जिला मुख्यालय पर धरना दिया। इस दौरान वक्ताओं ने विभिन्न समस्याओं पर प्रकाश डाला तथा समाधान करवाने की मांग रखी।पदाधिकारी ने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। किसानों ने बताया कि वर्ष-2018 में खरीफ फसल का बीमा क्लेम करवाया गया था। फसलों में नुकसान होने पर बीमा कंपनियां से मुआवजा मांगा गया, लेकिन कंपनियों ने हाथ खड़े कर दिए। बताया कि खरीफ बीमा के तहत 595 करोड़ रुपए जालोर के किसानों को देने हैं।कंपनियां अपील के नाम पर लटका रही है।इस तरह की धोखाधड़ी करने वाली कंपनियों को ब्लैक लिस्ट करने एवं सरकारी बीमा कंपनियों से फसली बीमा करवाने की मांग रखी।साथ ही नर्मदा व जवाई से सिंचाई का पानी देने, जवाईपुनर्भरण लागू करने, माही परियोजना के लिए कडाना हाइ लेवल केनाल लागू करने, सोलर कृषि कनेक्शन जल्दी दिलाने, सिंगल फेज घरेलू कनेक्शन दिलाने, किसानों के फसली ऋण माफी योजना के तहत दो लाख तक के ऋण माफ करने, पाइप स्प्रिंकलर का बकाया अनुदान दिलाने समेत मांगों पर समाधान की मांग रखी।


योजना से वंचित है ग्रामीण
उधर, देवड़ा गांव के लोगों ने जिला कलक्टर को ज्ञापन देकर समस्या समाधान की मांग रखी।बताया किइ-मित्र पर आवेदन के दौरान पोर्टल में इस गांव का नाम नहीं खुल रहा है।इससे गांव के लोग प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना से वंचित है।

बापूनगर के ग्रामीणों ने जताई आपत्ति, कहां दूर पड़ेगा सुथाना
जालोर. सांचौर ब्लॉक में बापूनगर के लोगों ने पंचायत पुनर्गठन पर आपत्ति दर्ज कराते हुए जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। ग्रामीणों ने बताया कि वर्तमान में पंचायतों का पुनर्गठन किया जा रहा है। अचलपुर ग्राम पंचायत में बापूनगर, गंगासरा, कैलाशनगर, सीलू, सुथाना, जैसला, अचलपुर शामिल है।नवीन पंचायत मुख्यालय गठन के लिए सुथाना का प्रस्ताव लिया गा है।इसमें जैसला, सुथाना, बापूनगर व प्रजापतिनगर को जोड़ा जा रहा है।इससे बापूनगर के लोगों को समस्या होगी। बापूनगर अचलपुर से दो-तीन व सुथाना से करीब नौ किमी दूर है।सुथाना के बजाय बापूनगर की आबादी भी दुगुनी है तथा माध्यमिक तक सरकारी स्कूल है।नए प्रस्ताव के तहत नया पंचायत मुख्यालय या तो बापूनगर को बनाया जाए अथवा बापूनगर को अचलपुर में ही रखा जाए, ताकि ग्रामीणों को समस्या का सामना नहीं करना पड़े।इस दौरान मगाराम चौधरी, नगाराम चौधरी, तुलसाराम भील, मगाराम कोली, वार्ड पंच गणपतलाल पुरोहित, मफाराम, नेबाराम, नीलाराम आदि मौजूद रहे।