स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

जर्जर हो गया नारणावास-बागरा मार्ग, मरम्मत की दरकार

Jitesh kumar Rawal

Publish: Dec 08, 2019 16:22 PM | Updated: Dec 08, 2019 16:22 PM

Jalore

www.patrika.com/rajasthan-news

करीब छह माह तक इस मार्ग पर भारी वाहन दौड़ाए गए, जिससे मार्ग पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया


नारणावास. बागरा से नारणावास तक मार्ग परी तरह से क्षतिग्रस्त है। यहां सड़क के निशान तक नहीं है। करीब छह माह तक इस मार्ग पर भारी वाहन दौड़ाए गए, जिससे मार्ग पूरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।अब इसकी मरम्मत की दरकार है। ग्रामीणों ने बताया कि बागरा में रेलवे ओवरब्रिज निर्माण को लेकर इस मार्ग पर वाहन डाइवर्ट किए गए थे। ग्रामीण रास्ता होने से इतनी मार नहीं सह पाया, जिससे कुछ ही दिनों में उखड़ गया। बड़े-बड़े गडढे होने से दुपहिया वाहनों को लेकर चलना भी भारी पड़ रहा है। हालांकि डाइवर्जन अब बंद कर चुके हैं, लेकिन मार्ग की टूट-फूट मरम्मत करने पर किसी को ध्यान नहीं जा रहा।


अब जी का जंजाल बना मार्ग
बागरा नारणावास मार्ग अब वाहन चालकों के जी का जंजाल बन गया है।यहां से गुजरते हुए काफी परेशान हो रहे हैं।जर्जर मार्ग पर धूल के गुबार उडऩे से दुपहिया व चार पहिया वाहन चालक परेशान हैं। अक्सर बीच मार्ग में ही वाहन खराब हो जाते हैं।

रात में ज्यादा खतरा
नारणावास बागरा मार्ग रात के समय वाहन चालकों के लिए खतरनाक साबित हो रहा है। वाहन गड्ढों में गिर कर खराब हो रहे हैं। गड्ढों से बचते हुए निकलने के चक्कर में सामने से आते वाहनों की हैड लाइट से अक्सर संतुलन बिगड़ जाता है। इससे हरदम हादसे का अंदेशा बना हुआ है।

[MORE_ADVERTISE1]