स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

छात्रा से छेड़छाड़ : केवी का शिक्षक कार्यमुक्त, आवासीय विद्यालय का शारीरिक शिक्षक निलम्बित

Nain Singh Rajpurohit

Publish: Dec 06, 2019 23:30 PM | Updated: Dec 06, 2019 20:14 PM

Jalore

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

जालोर/आहोर. जिला मुख्यालय पर संचालित केन्द्रीय विद्यालय (KV) में छात्राओं से छेड़छाड़ व सहकर्मियों से दुव्र्यवहार के आरोपी शिक्षक को केन्द्रीय विद्यालय संगठन (KVS) की सेवाओंं से कार्यमुक्त कर दिया गया है। वहीं भैंसवाड़ा के डॉ.बी.आर.अम्बेडकर राजकीय बालिका आवासीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में शारीरिक शिक्षक द्वारा एक छात्रा के साथ दुव्र्यवहार व छेडख़ानी का मामले में आरोपित शारीरिक शिक्षक को निलंबित (suspend) कर दिया गया है।
भैंसवाड़ा के डॉ.बी.आर.अम्बेडकर (Dr. b.r. ambedkar) राजकीय बालिका आवासीय उच्च माध्यमिक विद्यालय (residencial school) में शारीरिक शिक्षक द्वारा एक छात्रा के साथ दुव्र्यवहार व छेडख़ानी का मामला सामने आने के बाद विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता समेत अभिभावक शुक्रवार को भड़क गए। उन्होंने सुबह से लेकर शाम तक विद्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर घटना को लेकर आक्रोश जताया तथा आरोपित शारीरिक शिक्षक के खिलाफ पुलिस थाने में एफआईआर दर्ज करवाने समेत विभिन्न अनियमितताओं की जांच करवाने की मांग की। मांगों को लेकर उन्होंने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन भी सौंपा। मामला सामने आने के बाद आरोपित शारीरिक शिक्षक को निलम्बित कर दिया गया है लेकिन आरोपित शारीरिक शिक्षक के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवाने, प्रधानाचार्य को निलम्बित करने समेत विभिन्न अनियमितताओं की जांच की मांग पर आक्रोशित लोग देर शाम तक धरने पर बैठे हुए थे। इधर, सुबह उपखंड अधिकारी प्रशांत शर्मा समेत शिक्षा विभाग के अधिकारी भी विद्यालय पहुंचे।
गौरतलब है कि विद्यालय में कुछ दिनों पूर्व यहां कार्यरत शारीरिक शिक्षक पुष्पेन्द्र परमार द्वारा 11वीं कक्षा की एक छात्रा के साथ दुव्र्यवहार व छेडख़ानी का मामला सामने आने के बाद शुक्रवार सुबह विभिन्न संगठनों के कार्यकर्ता समेत अभिभावक भड़क गए तथा विद्यालय के बाहर धरना प्रदर्शन कर आक्रोश जताया। इधर, उपखंड अधिकारी शर्मा समेत शिक्षा विभाग के अधिकारी भी मौके पर पहुंचे। विद्यालय के बाहर राष्ट्रीय मूलनिवासी संघ के बैनर तले विभिन्न संगठनों के सदस्यों व अभिभावकों ने सुबह से लेकर शाम तक धरना प्रदर्शन कर आक्रोश जताया। आक्रोशित लोग शाम को समाचार लिखे जाने तक अपनी मांगों पर अड़े हुए थे तथा उनका धरना जारी था। धरने पर बैठे राष्ट्रीय मूल निवासी संघ के प्रदेशाध्यक्ष अचलेश्वर राणा समेत लोगोंं ने उपखंड अधिकारी को ज्ञापन सौंपकर आरोपित शारीरिक शिक्षक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने, प्रधानाचार्य को निलम्बित करने, महिला वार्डन के अलावा सभी स्टाफ महिलाएं ही लगाने समेत विभिन्न अनियमितताओंं की जांच करवाने की मांग की।
शारीरिक शिक्षक को किया निलम्बित
सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता विभाग के निदेशक व संयुक्त शासन सचिव सांवरमल वर्मा ने छात्रा के साथ दुव्र्यवहार एवं छेडख़ानी के आरोपित शारीरिक शिक्षक पुष्पेन्द्र परमार को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर उसकी प्रतिनियुक्ति समाप्त करते हुए उसे निदेशक माध्यमिक शिक्षा विभाग राजस्थान बीकानेर के लिए कार्यमुक्त किया गया है। शारीरिक शिक्षक परमार के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही के प्रस्ताव पृथक से शिक्षा विभाग को प्रेषित किए जाएंगे।
एफआईआर दर्ज करवाने की मांग पर अड़े रहे लोग
मामला सामने आने के बाद आरोपित शारीरिक शिक्षक को निलम्बित कर दिया गया है लेकिन आरोपित शारीरिक शिक्षक के विरूद्ध एफआईआर दर्ज करवाने समेत विद्यालय में विभिन्न अनियमितताओं की जांच की मांग पर आक्रोशित लोग शाम को समाचार लिखे जाने तक अड़े हुए थे तथा विद्यालय के बाहर शाम को भी उनका धरना जारी रहा।
रिपोर्ट भेजेंगे
छात्रा से दुव्र्यवहार व छेडख़ानी के आरोपित शारीरिक शिक्षक पुष्पेन्द्र परमार को निलम्बित किया गया है। घटना को लेकर आक्रोशित लोगों द्वारा विभिन्न मांगों को लेकर ज्ञापन दिया गया है। जिसको लेकर रिपोर्ट तैयार कर आगामी कार्रवाई के लिए विभाग को भेजी जाएगी।
-प्रशांत शर्मा, उपखंड अधिकारी, आहोर

[MORE_ADVERTISE1]