स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बोरली माइनर में नहीं पहुंच रहा पानी, चिंतित किसान

Dharmendra Ramawat

Publish: Dec 11, 2019 11:16 AM | Updated: Dec 11, 2019 11:16 AM

Jalore

www.patrika.com/rajasthan-news

सांचौर. बोरली व तैतरोल माइनर तक 11 दिन बीतने के बावजूद पानी नहीं पहुंचने से नाराज किसान मंगलवार को सांचौर स्थित एसडीमए कार्यालय पहुुंचे। इस दौरान एसडीएम के कार्यालय में नहीं होने के कारण किसानों ने नाराजगी जताई। किसानों ने बताया कि वे समस्या को लेकर उपखंड कार्यालय आते हैं, लेकिन एसडीएम की ओर से एसमडीएम कार्यालय में उपस्थित नहीं होने व प्रतिनिधि द्वारा ज्ञापन लेने की वजह से उनकी समस्याएं जस की तस रहती हैं। किसानों ने आरोप लगाया कि बोरली माइनर में पिछले ११ दिन से ज्यादा समय होने के बावजूद पानी नहीं पहुंचा है। जिससे किसान सियाळू सीजन में फसलों को पानी नहीं दे पा रहे हैं। जिससे किसानों में रोष है। किसानों ने बताया कि दो दिन में समस्याओं का समाधान नहीं हुआ तो आंदोलन किया जाएगा। इस मौके मोतीराम चौधरी, मदरूपसिंह राव पूर्व सरपंच, किशनलाल खिलेरी, बाबूसिंह राव, पहाड़सिंह राव, दलपतसिंह, उदयसिंह, मफतसिंह, भरतसिंह, टीकमसिंह, करशनसिंह, जबरसिंह, शैतानसिंह, भरतसिंह, लक्ष्मणसिंह, करसनसिंह, विरमाराम देवासी, मसरुराम, ऊदाराम, मेघाराम मेघवाल, धूड़ाराम प्रजापत, भलाराम प्रजापत, सोवलाराम चौधरी, करसनराम व रणचाराम समेत कई मौजूद थे।
अक्सर यही हाल रहता है
पानी की समस्याओं को लेकर किसानों को आए दिन उपखंड कार्यालय में ज्ञापन देने आना पड़ता है। इस दौरान उपखंड अधिकारी के कार्य की व्यस्तता का हवाला देकर फील्ड में होना बता दिया जाता है। ऐसे में किसानों को महज औपचारिकता के आधार पर प्रतिनिधि को ज्ञापन देकर निराश लौटना पड़ता है।

[MORE_ADVERTISE1]