स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

'बेदाग नारी' कार्यशाला में नवाचार

Tasneem Khan

Publish: Aug 22, 2019 20:09 PM | Updated: Aug 22, 2019 20:09 PM

Jaipur

'बेदाग नारी' कार्यशाला में नवाचार

जयपुर। प्रवीणलता संस्थान ने स्पॉटलेस डेम यानी बेदाग नारी अभियान के तहत हंसोल लॉजिस्टिक्स के साथ मिलकर एक कार्यशाला का आयोजन किया। इसका उद्देश्य मासिक धर्म स्वच्छता प्रबंधन के बारे में जागरूकता पैदा करना और एक समय के प्लास्टिक के उपयोग को रोककर हमारे पर्यावरण को बचाना है। यह कार्यशाला आमेर ब्लॉक के आखेपुरा के सरकारी आदर्श वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में लगभग 50 किशोरियों के लिए आयोजित की गई। सत्र का संचालन प्रवीणलता संस्थान की संस्थापक भारती सिंह चौहान ने किया। जिन्होंने पीरियड्स के दौरान हाइजीन प्रैक्टिस को फॉलो करने के लिए लड़कियों को शिक्षित करने पर ध्यान केंद्रित करने और दादी-नानी के समय की चर्चा करते हुए क्लॉथ पैड्स के इस्तेमाल पर बैक टू बेसिक्स के फायदों के बारे में बताया। उन्होंने बैम्बू चारकोल फैब्रिक से बने क्लोथ पैड्स के फायदों के बारे में चर्चा की और बताया की "मेरा पैड" जैविक और पर्यावरण अनुकूल कपडे से बना सेनिटरी पैड है, जो प्राकृतिक फायबर से युक्त जीवाणु रोधी और तरल को अधिक सोंखने वाला है। ये अपने आप मे एक नवाचार है जो इस पैड को औरों से खास बनाता है । इस पैड को पांच साल तक इस्तेमाल मे लिया जा सकता है। ये स्वाभाविक रूप से एंटी बैक्टीरियल, डियोड्रिएजिंग और बायो डीग्रेडेबल हैं। उनका उपयोग लगभग उसी तरह से किया जा सकता है जैसे डिस्पोजेबल पैड का उपयोग किया जाता है। ये पैड लैंडफिल में योगदान नहीं करते हैं, और डिस्पोजेबल पैड की तुलना में बहुत सस्ते और आरामदायक है। कार्यशाला मे ग्रामीण समुदायों से आने वाली 50 किशोरी बालिकाओं को मेरा पैड डीगनीटी किट निशुल्क वितरित किया गया। हंसोल लोजिस्टिक के अमोल सपेरा डीजीएम, एचआर ने कहा एक समय मे उपयोग मे लिये प्लास्टिक के कारण लैंडफिल में वृद्धि से हमारा पर्यावरण दूषित हो रहा है और इसे बचाने के लिए पर्यावरण अनुकूल पैड एक बहुत अच्छा विकल्प है और इसके लिये जागरूकता पैदा करने की बहुत आवश्यकता है। इसलिए हम प्रवीणलता संस्थान की इस पहल का समर्थन करते है और महिलाओं को सशक्त बनाने में अपना योगदान दे रहे हैं।इस अवसर पर हंसोल के सुमीर जोहर,बलबीर शर्मा और नीरज शर्मा भी उपस्थित थे।