स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

शब्द सिर्फ सजेंगे या निर्भय होकर नागरिकता से निर्भया तक मांगेंगे जवाब

Sanjay Kaushik

Publish: Jan 23, 2020 01:50 AM | Updated: Jan 23, 2020 01:50 AM

Jaipur

गुलाबीनगरी में गुरुवार की सुबह बेहद खास होगी। मौका होगा, 23 जनवरी से डिग्गी पैलेस में शुरू होने वाले पांच दिवसीय जयपुर साहित्य महोत्सव ( Jaipur Literature Festival 2020 from 23rd January ) के आगाज का। ( Jaipur News )

-जयपुर लिटरेचर फे स्टिवल आज से

-देश-विदेश के 250 से अधिक वक्ता रखेंगे विचार

-पत्रिका समूह के प्रधान संपादक गुलाब कोठारी का सेशन 27 को

जयपुर। गुलाबीनगरी में गुरुवार की सुबह बेहद खास होगी। एक ओर जहां शब्दों की खूबसूरती से साहित्यप्रेमियों के चेहरों पर खास चमक दिखेगी, तो वहीं कई सामाजिक-राजनीतिक मुद्दें, लोगों का ध्यान खीचेंगे। मौका होगा, 23 जनवरी से डिग्गी पैलेस में शुरू होने वाले पांच दिवसीय जयपुर साहित्य महोत्सव ( Jaipur Literature Festival 2020 from 23rd January ) के आगाज का। ( Jaipur News ) इस साहित्य उत्सव में दुनियाभर की साहित्यिक हस्तियां शिरकत करेंगी। समारोह के दौरान 27 जनवरी को शाम 4.45 बजे से पत्रिका समूह के प्रधान संपादक गुलाब कोठारी का सेशन होगा। 'विद् इन लाइ हार्मोनीÓ बैठक में सेशन होगा। कार्यक्रम को उद्घाटन सत्र मुख्यमंत्री अशोक गहलोत की मौजूदगी में होगा। जिसमें नमिता गोखले, विलियम डेमपरियार और संजय के. रॉय की-नोट सम्बोधन के तहत कला, विज्ञान और सृजनात्मकता पर विचार रखेंगे। इस दौरान मार्कर्स ड्यू साउथो और शुभा मुद्ग्ल भी अपने विचार रखेगी।

-अभिजीत बनर्जी, रवीश से लेकर थरूर तक

पांच दिवसीय इस साहित्यिक उत्सव में नोबेल पुरस्कार विजेता अभिजीत विनायक बनर्जी, सोलह से अधिक उपन्यास लिखने वाले लेखक मैन बुकर विजेता होवार्ड जैकबसन, अफगानिस्तान व पाकिस्तान में रिपोर्टिंग के लिए पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित भूतपूर्व पत्रकार डेक्सटर फिल्किन्स, जाने-माने अनुवादक और पुलित्जर पुरस्कार से सम्मानित लेखक फोरेस्ट गंडर, बीबीसी रेडियो और टेलीविजन के भूतपूर्व प्रोड्यूसर और अपनी किताब मोय सैंड एंड ग्रेवल के लिए पोएट्री के पुलित्जर पुरस्कार विजेता पॉल मुल्डून सहित 14 किताबों के लेखक और पुलित्जर पुरस्कार विजेता स्टीफन ग्रीनब्लाट व रामनाथ गोयनका और रेमन मैग्सेसे पुरस्कार से द फ्री वॉइस के लेखक व पत्रकार रवीश कुमार मुख्य तौर पर शामिल है। इसके अलावा स्पीकर हिंदी कवि और आलोचक अशोक वाजपेयी, लेखिका चित्रा मुद्गल, नमिता गोखले, गीतकार जावेद अख्तर, कवि और उपन्यासकार केकी एन.दारूवाला, अमेरिका के लेखक जॉर्ज पोल्क अवार्ड से सम्मानित आनंद गोपालयजीवेस एंड द किंग ऑफ क्लब्स के लेखक और जेम्स बियर्ड अवार्ड विजेता बेन स्कॉटय ब्रिटेन की प्रमुख लेखिका क्रिस्टीना लैम्बय ब्रिटिश लेखिका मिरांडा कार्टर, कॉमनवेल्थ राइटर प्राइज और क्रॉसवर्ड लाइफटाइम अचीवमेंट अवार्ड सहित शशि थरूर सरीखे राइटर और राजनेता भी फेस्टिवल में रहेंगे।

[MORE_ADVERTISE1]