स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Vasundhara Raje बोलीं, 'बाढ़ की स्थिति से चिंतित हूं', कार्यकर्ताओं से की मदद में जुटने की अपील

Nakul Devarshi

Publish: Sep 16, 2019 09:55 AM | Updated: Sep 16, 2019 10:06 AM

Jaipur

Vasundhara Raje Tweets on Heavy Rains in Rajasthan: राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ( Vasundhara Raje ) ने भी प्रदेश में हो रही अतिवृष्टि ( Heavy Rains in Rajasthan ) को लेकर चिंता जताई है। राजे ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि उन्होंने अधिकारियों को राहत और बचाव कार्य में लोगों की हरसंभव मदद करने के निर्देश दिए हैं। वहीं पार्टी के कार्यकर्ताओं से भी मदद के लिए आगे आने की अपील की है।

जयपुर/झालावाड़।

राजस्थान की पूर्व मुख्यमंत्री वसुंधरा राजे ( Vasundhara Raje ) ने भी प्रदेश में हो रही अतिवृष्टि ( Heavy Rains in Rajasthan ) को लेकर चिंता जताई है। राजे ने ट्वीट करते हुए लिखा है कि उन्होंने अधिकारियों को राहत और बचाव कार्य में लोगों की हरसंभव मदद करने के निर्देश दिए हैं। वहीं एक अन्य ट्वीट में उन्होंने पार्टी के कार्यकर्ताओं से भी मदद के लिए आगे आने की अपील की है।

गौरतलब है कि हाड़ौती संभाग का झालावाड़ और बारां क्षेत्र भी अतिवृष्टि से अत्यधिक प्रभावित है। वर्तमान में वे झालावाड़ ज़िले के ही झालरापाटन से भाजपा की विधायक हैं। झालावाड़-बारां ससदीय सीट से ही वसुंधरा राजे पांच बार सांसद रह चुकीं हैं। वर्त्तमान में उनके पुत्र दुष्यंत सिंह तीन बार से यहां से सांसद हैं।


'बाढ़ की स्थिति से चिंतित हूं'
वसुंधरा राजे ने ट्वीट में लिखा, 'झालावाड़ जिले में लगातार हो रही तेज बारिश के कारण बनी बाढ़ की स्थिति को लेकर चिंतित हूं। जिसके चलते, पिछले दो दिन से बाढ़ से सबसे ज्यादा प्रभावित क्षेत्र डग व चौमहला सहित अन्य जगहों के अधिकारियों से बात कर उन्हें स्थानीय लोगों को हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के निर्देश दिए हैं।'

'अधिकारियों से बात कर लिया है जायज़ा'
एक अन्य ट्वीट में पूर्व सीएम राजे ने लिखा, 'बरखेड़ा, लूणाखेड़ी, चोरखेड़ी, अर्निया, पद्माखेड़ी व पीपाखेड़ी सहित विभिन्न गांवों के लोगों से बात कर उनसे स्थिति का जायजा लिया है। डग व चौमहला के जनप्रतिनिधियों से भी चर्चा की है। सेना की अलग-अलग टीमें क्षेत्र में सक्रिय रहकर लोगों को रेस्क्यू कर सुरक्षित जगहों पर पहुंचा रही हैं।'

'हरसंभव सहायता करें कार्यकर्ता'
वहीं तीसरे ट्वीट में राजे ने लिखा, 'हाड़ौती के सभी कार्यकर्ताओं से मेरी विनम्र अपील है कि प्राकृतिक आपदा की इस घड़ी में जरूरतमंदों की हरसंभव सहायता करें। मौसम विभाग व प्रशासन के निर्देशों का पालन करें। मैं आप सभी की कुशलता की कामना करती हूं।'

... इधर लोग कर रहे ईश्वर से आराधना
झालावाड़ शहर में कालीसिंध नदी के उफान से प्रभावित व अस्तव्यस्त हुए लोगों ने रविवार को नदी का पानी उतारने के लिए ईश्वर की आराधना की। इन लोगों ने बाकायदा नदी की पूजा अर्चना की। शहर में कालीसिंध नदी के उफान से सबसे ज्यादा प्रभावित खंडिय़ा कॉलोनी भी हुई।

दरअसल, शहर में कालीसिंध नदी के उफान से सबसे ज्यादा प्रभावित खंडिय़ा कॉलोनी भी हुई। शनिवार रात नदी का पानी कॉलोनी के कई घरों में व खेतों में घुस गया इससे जनजीवन बुरी तरह प्रभावित हो गया।

रविवार सुबह कॉलोनी में रहने वाले भील समाज की ओर से पूजा अर्चना का कार्यक्रम रखा गया। इस दौरान ढोल की थाप पर विधि विधान से नदी की पूजा अर्चना, चुनरी ओढाई व आरती कर प्रसाद बांटा। कार्यक्रम में पूर्व पार्षद प्रभुलाल भील व उनकी पत्नी गुड्डी बाई मुख्य यजमान बने।