स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान में बेटियां हैवानों की भेंट चढ़ रही है, सरकार गहरी नींद में, राजे का ​मार्मिक ट्वीट

Pushpendra Singh Shekhawat

Publish: Dec 09, 2019 17:12 PM | Updated: Dec 09, 2019 17:12 PM

Jaipur

पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे ने राज्य सरकार पर साधा निशाना, ट्वीट कर प्रदेश में जंगलराज चरम पर होने का लगाया आरोप

जयपुर। पूर्व मुख्यमंत्री और भाजपा की राष्ट्रीय उपाध्यक्ष वसुंधरा राजे ( Vasundhara Raje ) ने सोमवार को ट्वीट कर राज्य की कांग्रेस सरकार ( Congress Government ) पर निशाना साधा है। राजे ने अपने ट्वीट में लिखा है कि प्रदेश में अन्याय की अति हो गई है, जंगलराज चरम पर है। बेटियां हैवानों की हवस के भेंट चढ़ रही है, हर तरफ बचाओ-बचाओ की चीखें गूंज रही है, लेकिन कांग्रेस सरकार गहरी नींद सो रही है। उन्होंने कहा कि देसूरी में हुआ निर्मम हत्याकांड व पुलिस का रवैया सुशासन के दावों पर करारा तमाचा है।

[MORE_ADVERTISE1] [MORE_ADVERTISE2]

पूर्व मुख्यमंत्री ने अपने ट्वीट के साथ राजस्थान पत्रिका की खबर को भी लगाया है। जिसमें पाली जिले के देसूरी थाना क्षेत्र के नारलाई गांव के जंगल में चार दिन पूर्व धारदार हथियार से हुई विवाहिता की हत्या का मामला है। जिसमें हत्या के चौथे दिन अब पुलिस मान रही है कि हत्या से पहले विवाहिता के साथ बलात्कार का प्रयास हुआ है। मेडिकल बोर्ड के मेडिकल ज्यूरिस्ट ने भी माना है कि मृतका के शरीर पर काटने व दांत के निशान मिले हैं, 15 से अधिक धारदार हथियार के घाव है। ऐसे में बलात्कार का प्रयास तो हुआ है, लेकिन पाली पुलिस इसे दबाने में लगी है। पुलिस ने बलात्कार के प्रयास की धाराएं अभी तक एफआईआर में नहीं जोड़ी है। जबकि परिजन इसकी मांग कर चुके हैं।

प्रदेश में 7058 प्रकरणों में से 1529 में चालान
प्रदेश पुलिस के आंकड़ों में इस वर्ष अक्टूबर तक 7058 बलात्कार के मामले दर्ज हुए। इनमें से पुलिस ने 1529 बलात्कार की घटनाओं को सही मानते हुए कोर्ट में चालान पेश किया। पुलिस जांच में अभी 1671 प्रकरण विचाराधीन हैं। वहीं जयपुर कमिश्नरेट में इस वर्ष नवम्बर तक बलात्कार के कुल 480 मामले दर्ज हुए। इनमें सर्वाधिक जयपुर कमिश्नरेट के पश्चिमी जिले में 145 प्रकरण दर्ज हुए। जबकि दूसरे नंबर पर दक्षिणी क्षेत्र में 139, पूर्वी क्षेत्र में 125 और उत्तरी क्षेत्र में 71 बलात्कार के मामले दर्ज हुए।

[MORE_ADVERTISE3]