स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

स्टेशन पर गफलत में यात्री, प्रशासन की अनदेखी से छूट जाती है ट्रेन

Ashish Sharma

Publish: Jul 03, 2018 20:57 PM | Updated: Jul 03, 2018 20:57 PM

Jaipur

रेलवे स्टेशन पर गफलत में यात्री, प्रशासन की अनदेखी से छूट जाती है ट्रेन

जयपुर
जयपुर रेलवे स्टेशन पर टिकट बुकिंग काउंटर्स को दूसरे स्थान पर शिफ्ट कर दिए जाने से यात्रियों को इन दिनों परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अनारक्षित श्रेणी के टिकट बुकिंग काउंटर्स और इंक्वारी काउंटर अलग अलग जगहों पर कर दिए जाने से यात्री पसोपेश में हैं। रेलवे प्रशासन की अनदेखी के चलते दोनों की काउंटर्स अलग अलग होने से काफी यात्रियों को ट्रेन छूट जाने की परेशानी से भी जूझना पड़ रहा है।
दरअसल, रेलवे स्टेशन पर पहले पुराने बुकिंग हॉल में ही अनारक्षित श्रेणी के काउंटर्स के साथ ही इंक्वारी काउंटर भी था। इन दोनों ही प्रकार के काउंटर्स के एक ही जगह पर होने से यात्रियों के लिए सुविधा थी। वो पहले आराम से ट्रेन की इंक्वारी कर लेते थे फिर टिकट लेकर आराम से यात्रा कर लेते थे। लेकिन पुराने बुकिंग हॉल के सौंदर्यीकरण के नाम पर रेलवे प्रशासन ने यहां से अनारक्षित श्रेणी के ट्रेन बुकिंग काउंटर्स को पैसेंजर रिजर्वेशन सिस्टम वाले भवन में स्थानांतरित कर दिया हैं। ऐसे में बुकिंग काउंटर और अनारक्षित काउंटर्स के अलग अलग होने से यात्रियों के लिए इंक्वारी कर टिकट बुक करवाने की पुरानी व्यवस्था अब बदल कर मुसीबत में बदल गई है। नई जगह पर अनारक्षित श्रेणी की टिकट बुक करवाने के लिए जगह भी कम है। यहां लगी हुईं आॅटोमेटिक टिकट वेंडिंग मशीन भी खराब पड़ी हुई है। गौरतलब है कि जयपुर स्टेशन से हर रोज यात्रा के लिए करीब 20 हजार टिकट जारी होती हैं।

पेसोपेश में हैं यात्री
स्टेशन पर कई यात्रियों के साथ ऐसा हो रहा है कि वे टिकट ले लेते हैं और फिर इंक्वारी खिड़की पर जाकर पूछताछ करते हैं तो तब तक पता चलता है कि ट्रेन काफी लेट है। ऐसे में उन्हें बुकिंग काउंटर्स के पास ही पहले इंक्वारी की जानकारी नहीं मिलने से काफी देर तक ट्रेन का इंतजार करना पड़ता है।
ट्रेन जाती है छूट
वहीं, कई यात्रियों के साथ ऐसा भी हो रहा है कि वे पहले ट्रेन के बारे में पूछताछ करने के लिए इंक्वारी काउंटर जाते हैं तो यहां भीड़भाड़ में समय लग जाता है। फिर टिकट लेने के लिए बुकिंग काउंटर्स पर जाते हैं तो यहां भीड़भाड़ मिलने से टिकट मिलने में समय लगने से कई बार ट्रेन तक छूट जाती है। रेलवे स्टेशन पर सोमवार को टिकट बुकिंग के लिए कतार में खड़े अशोक व अन्य यात्रियों ने कुछ ऐसी ही शिकायत की।
ऐसा समाधान संभव
यात्रियों का कहना है कि बुकिंग काउंटर्स और इंक्वारी की व्यवस्था पहले की तरह एक ही स्थान पर होनी चाहिए। इसके साथ ही आरक्षण टिकट की उपलब्धता वाले भवन में यात्रियों की सुविधा के लिए इलेक्ट्र्रानिक डिस्प्ले भी लगवाया जाना चाहिए ताकि वे ट्रेन के आवागमन संबंधी सूचनाएं देख सकें। मेट्रो ट्र्रेन के लिए बने काउंटर्स पर इंक्वारी काउंटर को शिफ्ट किया जा सकता है। पुराने बुकिंग हॉल में आॅटोमेटिक टिकट वेुंडिंग मशीन भी लगाईं जा सकती हैं ताकि यात्री यहां से भी टिकट ले सकें।