स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

गढ़ा धन निकालने का झांसा देकर धोखाधड़ी करने वाला हार्डकोर अपराधी गिरफ्तार

Dinesh Kumar Gautam

Publish: Nov 20, 2019 21:38 PM | Updated: Nov 20, 2019 21:38 PM

Jaipur

इनामी वांटेड (wanted ) हार्डकोर अपराधियों में शामिल समुन्द्र सिंह बावरिया, उम्र 30 साल, निवासी नेतावालों की ढाणी, किषनगढ रेनवाल, जयपुर हाल चकडेरो का बास मारोठ जिला नागौर को रायसर, जमवारामगढ़ से मय एक देषी कट्टा व 3 कारतूस गिरफ्तार किया

राजस्थान पुलिस की सीआईडी, अपराध शाखा की स्पेषल टीम ने बुधवार को प्रातः प्रदेष के टाॅप 25 इनामी वांटेड हार्डकोर अपराधियों में शामिल समुन्द्र सिंह बावरिया, उम्र 30 साल, निवासी नेतावालों की ढाणी, किषनगढ रेनवाल, जयपुर हाल चकडेरो का बास मारोठ जिला नागौर को रायसर, जमवारामगढ़ से मय एक देषी कट्टा व 3 कारतूस गिरफ्तार किया है।
अतिरिक्त महानिदेषक पुलिस, अपराध बी. एल. सोनी ने बताया कि पुलिस मुख्यालय द्वारा संचालित विषेष अभियान के तहत टाॅप 25 में वांटेड अपराधी समुन्द्र सिंह बावरिया ने संगठित गिरोह के साथ मिलकर प्रदेष के भोले-भाले लोगों को गड़ा धन निकालने व धन दुगना करने का झांसा देकर ठगी की वारदात करता था। समुन्द्र सिंह पूजा हवन द्वारा पूर्व नियोजित योजनानुसार चांदी के पुराने झाड़षाही सिक्के एवं सोने की गिन्नियांे से भरा मटका जमीन में से निकालने का झांसा देकर ठगी की वारदात करता था।
सोनी ने बताया कि राज्य स्तरीय सर्वोच्च 25 ईनामी अपराधियों में शामिल गिरफ्तार आरोपी समुन्द्र सिंह जयपुर ग्रामीण, जयपुर शहर, नागौर एवं अजमेर के लगभग 20 मुकदमों में वांछित था। उस पर महानिरीक्षक पुलिस, जयपुर रेंज द्वारा 10 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया गया था। समुन्द्र सिंह वर्ष 2018 से फरार चल रहा है और उसने फरारी के दौरान भी कई व्यक्तियों के साथ करोडों रूपये की ठगी को अंजाम दिया है।
उन्होंने बताया कि समुन्द्र सिंह के विरूद्ध थाना जमवारामढ़, जयपुर ग्रामीण में प्रकरण दर्ज कर उसके साथियों के बारे में में गहन पूछताछ की जा रही है।

[MORE_ADVERTISE1]