स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

इस बार दिवाली पर ये खुशी मिली है हमें... पहले ऐसा कभी नहीं हुआ

Jayant Sharma

Publish: Oct 21, 2019 11:15 AM | Updated: Oct 21, 2019 11:15 AM

Jaipur

Never had this happened before... देश भर में खुशी का माहौल है क्योंकि कुछ घंटों पहले ही पाकिस्तान पर भारत ने हमला किया है और जवानों की शहादत का बदला लिया है। हांलाकि इस बीच अब सेना और पुलिस की परेशानी कुछ हद तक बढ़ गई है क्योंकि संभव है पाकिस्तान किसी तरह की नापाक हरकत कर दे और देश में कहीं पर माहौल बिगाड़ने के लिए आतंकी कुछ अनहोनी कर दें।

जयपुर. This Diwali is best.इस बार की दिवाली बेहद खास है। देश भर में खुशी का माहौल है क्योंकि कुछ घंटों पहले ही पाकिस्तान पर भारत ने हमला किया है और जवानों की शहादत का बदला लिया है। हांलाकि इस बीच अब (Indian Army) सेना और (Rajasthan Police) पुलिस की परेशानी कुछ हद तक बढ़ गई है क्योंकि संभव है (Attack on Pakistan) पाकिस्तान किसी तरह की नापाक हरकत कर दे और देश में कहीं पर माहौल बिगाड़ने के लिए आतंकी कुछ अनहोनी कर दें। हांलाकि इन सब के बीच देश भर में सुरक्षा बंदोबस्त इस बार इतने पुख्ता हैं कि परिंदा भी पर नहीं मार सकता। राजस्थान और जयपुर समेत अन्य शहरों में भी सुरक्षा एजेंसियां और पुलिस अलर्ट मोड पर हैं।


पांच दिन हर गली, चौराहे, बाजार में पुलिस
धनतेरस के साथ प्रारंभ दीपावली त्यौहार पर कमिश्नरेट में तैनात पुलिस अधिकारियों को शहर में कानून एवं शांति व्यवस्था बनाये रखने के लिए सजग एवं सतर्क होकर कार्य करने के निर्देश दिए है। धनरतेरस, छोटी दीपावली, दीपावली, गोवर्धनपूजा और भैया दूज के त्यौहार पर पुलिस कमिश्नरेट द्वारा शहर में शांति एवं सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए हैं। इसके तहत चारों जिले और शहर ट्रेफिक के पुलिस उपायुक्तों को अतिरिक्त पुलिस जाप्ता उपलब्ध कराया गया है। पुलिस थानों की पुलिस के साथ ही शहर में आरएसी की कंपनियों सहित पुलिस बल तैनात रहेगा। पुलिस उपायुक्तों को निर्देश दिए गए हैं कि वे इस अतिरिक्त पुलिस जाप्ते का अपने-अपने क्षेत्र में आवश्यकतानुसार उपयोग करें। धनरेतरस से प्रारंभ दीपावली के त्यौहार पर शहर में भीड़-भाड़ वाले ईलाकों, छोटी गलियों, मुख्य बाजारों एवं कॉलोनियों में भी शांति व्यवस्था एवं सुरक्षा बनाये रखने की दृष्टि से मजबूत व्यवस्था रहेगी। अन्य बाजारों की तुलना में परकोटा बाजारों में ज्यादा पुलिस तैनात की गई है। परकोटे के भीतरी इलाके में रोशनी देखने के लिए आने वाली भीड़ को देखते हुए विशेष इंतजाम किए है।

भारी संख्या में पर्यटक आते हैं जयपुर की दीवाली देखने
जयपुर में दिवाली के समय ही सबसे ज्यादा देसी और विदेशी पर्यटक आते हैं। शहर के अंदर के होटल और गेस्ट हाउस बुक कर लिए गए हैं। इस बीच पर्यटकों की सुरक्षा का भी विशेष ध्यान दिया गया है। पर्यटकों को परेशान करने वाले शोरुम मालिकों और लपकों पर पर्यटन पुलिस की नजर है। शहर के मॉल्स, बाजारों और अन्य जगहों पर अभय कमांड सेंटर से नजर रखी जा रही है ताकि दिवाली के पांच दिन किसी के लिए भी बुरा अनुभव नहीं लाएं। आपात स्थिति से निपटने के लिए क्यूआरटी,सशस्त्र पुलिस बल,आरएसी और पुलिस लाइन के साथ ही होमगार्ड का अतिरिक्त जाप्ता तैनात किया गया है। दकमलों को भी दिवाली से पहले पूरी तरह से दुरूस्त रखने के निर्देश जारी किए गए हैं।

आतंकी हमले का इनपुट मिल चुका है दो बार
गुजरे तीस दिनों में जयपुर समेत अन्य बड़े शहरों में आतंकी हमलों का इनपुट सेंट्रल आईबी से मिल चुका है। जिसमें यह बताया गया है कि दीपावली के त्यौहार पर आतंकवादी विभिन्न राज्यों में भीड़भाड़ वाले स्थानों पर आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने की फिराक में हैं। सेंट्रल आईबी द्वारा मिले इनपुट के बाद राजस्थान पुलिस भी अलर्ट मोड पर आ गई है। शहरों में पुलिस और सीमाओं पर सेना ने मोर्चा संभाल लिया है... ताकि आपकी और हमारी दिवाली सुरक्षित रहे।