स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान के इस वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने कर लिया सुसाइड़, सवेरे फंदे पर लटके मिले, पार्टी में शोक की लहर

Jayant Sharma

Publish: Sep 17, 2019 10:57 AM | Updated: Sep 17, 2019 10:57 AM

Jaipur

राजस्थान के इस वरिष्ठ कांग्रेसी नेता ने कर लिया सुसाइड़, सवेरे फंदे पर लटके मिले, पार्टी में शोक की लहर

जयपुर
This senior Congress leader of Rajasthan committed suicide बसपा (BSP Party) के छह विधायकों का कांग्रेस में विलय होने का जश्न कांग्रेस पार्टी मना रही थी कि इस बीच एक वरिष्ठ कांग्रेसी नेता की मौत की खबर क्या आई कि शोर की लहर फैल गई। पार्टी के ये वरिष्ठ नेता आज तड़के अपने कमरे में फंदे पर लटके मिले। प्राथमिक जांच में पुलिस इसे सुसाइड़ केस ही मान रही है। नेता की मौत की खबर जैसे ही फैली उनके सैंकड़ो कांग्रेसी नेता और कार्यकर्ता उनके घर में जमा हो गए। घटना बारां जिले की है।

फंदे पर लटके मिले, कारण अज्ञात
मामले की जांच कर रही बांरा जिले की पुलिस ने बताया कि पूर्व पार्षद और कांग्रेस सेवादल के वरिष्ठ नेता जगदीश पांचाल ने बीती रात फांसी लगा ली। आज सवेरे वे अपने कमरे में लटके मिले। परिजनों की सूचना के बाद पहुंची पुलिस ने परिजनों की मदद से उनके शव को नीचे उतारा और राजकीय अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया। पांचाल ने सुसाइड़ क्यों किया, इस बारे में परिवार के लोग भी कोई जानकारी नहीं दे पा रहे हैं। जिस कमरे में पांचाल का शव लटका मिला उस कमरे में पुलिस ने तलाशी ली लेकिन वहां से किसी तरह का कोई सुसाइड़ नोट या अन्य कागजात नहीं मिला है। परिवार के लोगों ने कहा कि कई सालों से पांचाल कांग्रेस से जुड़े हुए थे। शहर में और प्रदेश में अन्य जगहों पर होने वाले कार्यक्रमों में बढ़ चढ़कर हिस्सा लेते थे। कई बड़े पार्टी नेताओं से सीधी बातचीत थी।


जिसने सुना दौड़ पड़ा
पांचाल की मौत की सूचना मिलने पर जिले के कांग्रेसी उनके घर के लिए दौड़ गए। आसपास रहने वाले लोग भी पांचाल के घर जमा हो गए। सभी में यही कौतूहल था कि ऐसा क्या कारण रहा कि पांचाल ने सुसाइड़ कर लिया। पुलिस ने कहा कि एक बार उनके कमरे की तलाशी ले ली गई है लेकिन वहां कुछ नहीं मिला है। जरुरत पडने पर एक बार और तलाशी ली जाएगी। सवेरे जब सुसाइड़ की सूचना शहर में फैली तो पूरे शहर में यही चर्चा रही कि आखिर क्या कारण रहे कि जगदीश पांचाल दुनिया को इस तरह से अलविदा कह गए...?

File picture