स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एसएमएस अस्पताल बना स्विमिंग पूल, अचानक बहा इतना पानी, देखें वीडियो

Pushpendra Singh Shekhawat

Publish: Dec 10, 2019 18:46 PM | Updated: Dec 10, 2019 18:46 PM

Jaipur

पहली बार हुई ट्रायल में फायर हाइड्रेंट लाइन में लीकेज, जगह-जगह भरा पानी, मरीज होते रहे परेशान

अविनाश बाकोलिया / जयपुर। दिल्ली की अनाज मंडी के रिहायशी इलाके में एक चार मंजिला इमारत में लगी आग की घटना ने जहां पूरे देश को झकझोर कर रख दिया है, वहीं प्रदेश के सबसे बड़े सवाई मानसिंह अस्पताल में आग से निपटने के इंतजाम में मंगलवार को बड़ी खामी देखने को मिली। प्रशासन की लापरवाही का खामियाजा अस्पताल के सैंकड़ों मरीजों को उठाना पड़ा। आग के इंतजाम के लिए करीब 70 लाख रुपए की लागत से लगाए गए फायर फाइटिंग सिस्टम की ट्रायल के दौरान ही पोल खुल गई।

सार्वजनिक निर्माण विभाग (इलेक्ट्रिक) विभाग की ओर से दोपहर 12.30 बजे अस्पताल में लगी हाइडे्रंट की लाइन की टेस्टिंग की। टेस्टिंग के दौरान 16 नंबर एक्सरे रूम के बाहर लगी लाइन में लीकेज हो गया, जिससे भूतल पर हर जगह पानी भर गया। इसके तुरंत बाद ही साउथ विंग की तरफ जाने वाले रास्ते में भी हाइडेंट लाइन में लीकेज होना शुरू हो गया। अचानक हुए लीकेज से चारों तरफ अफरा-तफरी का माहौल हो गया। सूचना पर विभाग के कर्मचारी पहुंचे और उन्होंने तुरंत सप्लाई बंद कर लीकेज को ठीक किया।

एक घंटे तक ठप हुआ काम, मरीज भटकते रहे
लीकेज के दौरान पानी का प्रेशर इतनी तेजी से आया कि कुछ ही देर में रेडियो डायग्नोसिस विभाग में पानी भर गया। जिससे एक घंटे तक काम ठप हो गया। एक्स-रे और सोनोग्राफी नहीं हो सकी। पानी भरने से मरीजों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। कम्प्यूटर ऑपरेटर मुकेश ने बताया कि खिड़की के पास ही हाइडें्रट की लाइन है। अचानक लीकेज हुआ तो पानी तेजी से खिड़की पर आने लगा। घबराकर सारे कम्प्यूटर बंद कर दिए और सभी बाहर निकल गए।

भू-तल हुआ तरणताल, कोरिडोर में लगी मरीजों की भीड़
आधे घंटे तक लगातार पानी बहने से भूतल पर लाइफ लाइन स्टोर के बाहर तरणताल बन गया। लाइफ लाइन स्टोर और आस-पास के कमरों में भी पानी भर गया। कर्मचारियों को पानी निकालने में करीब एक घंटे का समय लगा। इस दौरान गेट नंबर दो की तरफ जाने वाले मरीजों को कोरिडोर में ही रोका गया।

[MORE_ADVERTISE1]