स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

एसीबी को देखकर कांस्टेबल ने कचरे के ढेर में फेंक दिए नोट

Dinesh Kumar Gautam

Publish: Nov 18, 2019 00:33 AM | Updated: Nov 18, 2019 00:33 AM

Jaipur

ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें जांच अधिकारी एएसआई ने मामला दर्ज होने के बाद कार्रवाई करने के लिए कांस्टेबल के जरिए 12 हजार रुपए मांगे, इतना ही नहीं पांच हजार लेने के बाद दो हजार रुपए की पेटीएम भी करवा लिए

बाडमेर ( Badmer news )में ऐसा ही एक मामला सामने आया है जिसमें जांच अधिकारी एएसआई ने मामला दर्ज होने के बाद कार्रवाई करने के लिए कांस्टेबल के जरिए 12 हजार रुपए मांगे, इतना ही नहीं पांच हजार लेने के बाद दो हजार रुपए की पेटीएम भी करवा लिए। एसीबी (acb)की गिरफ्त में आने के दौरान बचे हुए पांच हजार रुपए ले रहा था।
बाडमेर सिरोही में एसीबी के एएसपी नारायण सिंह राजपुरोहित ने बताया कि पुलिस थाना सिणधरी में कार्यरत कांस्टेबल को बाड़मेर शहर में रिश्वत लेते गिरफ्तार किया गया। सिरोही एसीबी टीम ने बाड़मेर में बड़ी कार्यवाही करते हुए सिणधरी थाने में तैनात एक पुलिस कांस्टेबल को पांच हजार रुपए की रिश्वत लेते हुए गिरफ्तार किया है। जानकारी के मुताबिक सिणधरी थाने में दर्ज एक मामले में एफआर लगाने को लेकर एक एएसआई और कॉन्स्टेबल ने 12 हजार रुपए रिश्वत की मांग की थी। जिसमे परिवादी 5 हज़ार पूर्व में और उसके बाद 2 हज़ार रुपये पेटीएम के माध्यम से दे चुका था और शेष 5 हज़ार रुपये परिवादी से आज लिए जाने थे। परिवादी ने सिरोही एसीबी को भ्रष्ट एएसआई और कांस्टेबल डालूराम चौधरी के खिलाफ शिकायत दर्ज करवाई थी। जिसके बाद सिरोही एसीबी एसपी नारायणसिंह राजपुरोहित एवं उनकी टीम में घटनाक्रम का भौतिक सत्यापन किया गया। जिसके बाद आज कांस्टेबल डालूराम चौधरी को शहर के स्टेशन रोड़ पर 5 हजार की रिश्वत लेते टीम ने रंगे हाथों गिरफ्तार कर लिया। हालांकि एसीबी टीम की भनक लगने पर आरोपी कांस्टेबल ने भागने की कोशिश भी की लेकिन टीम ने उसका पीछा करते हुए उसे गिरफ्तार कर लिया। इससे पहले आरोपी कांस्टेबल एसीबी की टीम को खुब छकाया। परिवादी से रुपए लेने के लिए उसे थाने की बजाय नेशनल हैंडलूम में एक दुकान पर ले गया। जहां पर उसे संदेह हुआ तो रुपए लेकर भाग गया। एसीबी की टीम ने पीछा किया तो रास्ते में कचरे के ढेर में रुपए फेंक दिए। बाद में एसीबी के गिरफ्त में आने के बाद पूछताछ कर कचरे के ढेर से पांच हजार रुपए बरामद किए गए। पुलिस पूछताछ कर रिश्वत मामले में शामिल अन्य आरोपियों के बारे में पूछताछ कर रही है।

[MORE_ADVERTISE1]