स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

यू-ट्यूब चैनल चलाना अब नहीं होगा आसान

Khusendra Tiwari

Publish: Sep 22, 2019 21:48 PM | Updated: Sep 22, 2019 21:48 PM

Jaipur

यूट्यूब करने जा रहा है बड़ा बदलाव, अब नहीं मिलेंगा वेरिफिकेशन बैज

- आखिर क्यों कर रहा है यू-ट्यूब इतना बड़ा बदलाव
- भ्रामक जानकारियों पर लगेगी लगाम

जयपुर. टेक्नोलॉजी ने जहां लोगों की सहूलियतें बढ़ाई है। वहीं इसका दूसरा पहलू है कि लोग टेक्नोलॉजी का गलत इस्तेमाल भी करने लगे हैं। सोशल मीडिया इसका खासतौर पर शिकार हो रहा है। सोशल मीडिया पर लगातार मिस इंफॉर्मेशन का सिलसिला लगातार बढ़ रहा है। इसे लेकर फेसबुक से लेकर यू-ट्यूब जैसे सभी प्लेटफॉर्म काफी परेशान है। इसे ध्यान में रखते हुए यू-ट्यूब ने एक ठोस फैसला लेने की घोषणा की है। यू-ट्यूब से मिली जानकारी के अनुसार अब जल्द ही वीडियो शेयरिंग साइट यूट्यूब अपने वैरिफिकेशन ऑप्शन में बदलाव करने जा रहा है। यू-ट्यूब से मिली जानकारी के अनुसार अब यू-ट्यूब , यू-ट्यूब पर चैनल बनाने को अकाउंट होल्डर्स को जल्द ही वेरिफिकेशन बैज देने का सिलसिला बंद करेगा। हालांकि यू-ट्यूब ने यह भी जानकारी दी है कि यू-ट्यूब इस ऑप्शन को नए तरीके के साथ प्रजेंट करेगा। एक्सपट्र्स की मानें, तो यूट्यूब पर अपलोड किए जा रहे फेक वीडियो उनके लिए बड़ी समस्या बन गए हैं। कई बार यूजर्स उन्हें इस विषय को लेकर शिकायत कर चुके हैं। यह भी जानकारी मिली है कि कई बार तो लोग इनमें दी गई भ्रामक जानकारियों को सही मान लेते हैं। साथ ही इसके चलते फेक वीडियोंज भी लाखों व्यूज मिल जाते हैं। हाल ही में हुए एक शोध में भी सामने आया था कि यूट्यूब पर देखे गए फर्जी वीडियो के चलते कई लोग धरती को गोल नहीं बल्कि चपटा मानते हैं। उल्लेखनीय है कि इससे पहले यू-ट्यूब की ओनरशिप कंपनी गूगल भी फर्जी कंटेंट को लेकर ठोस कदम उठा चुकी है। अब यू-ट्यूब में इसी दिशा में कदम उठाया जा रहा है, जिससे यूजर्स को अब अधिक भरोसेमंद कंटेंट मिले। लिहाजा इसी गारंटी के लिए यूट्यूब अपने वेरीफिकेशन क्राइटेरिया में बदलाव करने जा रहा है।

वेरिफाइड होने के लिए देनी होगी कड़ी परीक्षा
मिली जानकारी के अनुसार आने वाले समय में ऐसे ही चैनलों को तवज्जों मिलेगी, जो फेम और ऑथेटिंक होंगे। साथ ही उन चैनलों की मौजूदगी अन्य प्लेटफॉर्म भी होना जरूरी है। यह भी जानकारी मिली है कि ऐसे चैनल और अकाउंट के आगे से भी ब्लू टिक हटेगा, जिन्हें हजारों की संख्या में फोलोअर्स है।