स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान के इन ​निकायों में भाजपा कांग्रेस नहीं, निर्दलीय पार्षदों के भरोसे बनेगा बोर्ड

Deepshikha

Publish: Nov 19, 2019 18:26 PM | Updated: Nov 19, 2019 18:26 PM

Jaipur

Rajasthan Local Body Election 2019 Result: 20 निकायों में बोर्ड बनाने के लिए भाजपा-कांग्रेस निर्दलीय पार्षदों के भरोसे, पिछले तीन निकाय चुनावों पर गौर करें तो स्थित रहा है निर्दलीय उम्मीदवारों का प्रदर्शन

अश्विनी भदौरिया / जयपुर. Rajasthan Nagar Nikay Election Results 2019 Live: निकाय चुनाव के परिणाम आने के बाद कांग्रेस और भाजपा अपने-अपने बोर्ड बनाने की तैयारी में जुट गए हैं। चुनाव परिणाम आने के बाद निर्दलीय पार्षदों की 49 में से 20 निकायों में बेहद महत्वपूर्ण भागीदारी सामने आ रही है। इन निकायों में कांग्रेस ( Congress ) और भाजपा ( BJP ) में से जनता ने किसी को बोर्ड बनाने का मौका नहीं दिया है। यहां निर्दलीय जिस दल को समर्थन करेंगे, उसी दल का प्रमुख बनना ( Municipal Election Results in Rajasthan ) तय है। वहीं करीब आधा दर्जन निकाय ऐसे हैं, जहां निर्दलीय पार्षदों की संख्या भाजपा और कांग्रेस के पार्षदों से अधिक है।


पिलानी नगर पालिका ( Pilani Municipality ) की जनता ने पिछला प्रदर्शन दोहराया है। यहां 35 में से 30 निर्दलीय चुनाव जीते हैं। वहीं भाजपा के तीन और कांग्रेस के दो पार्षद चुनाव जीतने में कामयाब हुए हैं। इन निकायों के परिणाम आने के बाद कांग्रेस के प्रभारी मंत्री और विधायक बोर्ड बनाने के लिए सक्रिय हो गए हैं। वहीं भाजपा प्रदेश शीर्ष नेतृत्व भी हर पल पर नजर बनाए हुए हैं। कई निकायों में तो निर्दलीय पार्षदों की बाड़ाबंदी तक हो गई।

दोनों के लिए निर्दलीय महत्वपूर्ण

भरतपुर नगर निगम ( Bharatpur Municipal Corporation ) में 65 वार्डों में 22 निर्दलीय जीते हैं। बोर्ड बनाने के लिए दोनों दलों का दारोमदार निर्दलीयों पर ही है। वहीं 65 सीटों वाले अलवर नगर परिषद ( Alwar City Council ) में 19 निर्दलीय जीते हैं। हालांकि भाजपा यहां सबसे बड़े दल और बोर्ड बनाने ने नजदीक है।

महवा नगर पालिका में 25 में से 13 निर्दलीय जीते हैं। कांग्रेस की आठ प्रत्याशी ही जीत पाए। गंगानगर नगर परिषद के 65 वार्डों में से 22 पर निर्दलीय जीते। भाजपा ने यहां 24 वार्डों में कब्जा किया। रूपवास नगर पालिका में 25 वार्डों में से 13 निर्दलीय जीते हैं। यहां कांग्रेस और भाजपा के छह-छह पार्षद जीते हैं।

घर वापसी का मौका मिलेगा

टिकट वितरण के दौरान दोनों दलों से कई लोग नाराज हुए और निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर चुनाव मैदान में उतर गए। ऐसे में कई तो पार्षद भी बन गए। ऐसे पार्षदों की वापसी की उम्म्मीद पार्टी हाईकमान भी लगाए बैठी है।

दलों का प्रदर्शन घटा-बढ़ा, निर्दलीय स्थिर

वर्ष(कुल वार्ड)-------भाजपा-------------कांग्रेस---------निर्दलीय

2019(2105)----737(35.01)-----961(45.65)-----386(18.33)
2014(1696)----931(54.89)-----446(26.29)-----313(18.45)

2009(1612)----581(36.04)-----717(77.47)-----302(18.73)

[MORE_ADVERTISE1]