स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रार्थना सभा में पढ़ाई जाएगी संविधान की प्रस्तावना, सभी कांग्रेस शासित राज्यों में होगा लागू

Dinesh Saini

Publish: Jan 25, 2020 12:23 PM | Updated: Jan 25, 2020 12:26 PM

Jaipur

देश के स्कूली विद्यार्थियों को प्रार्थना सभा के दौरान अब संविधान का पाठ पढ़ाया जाएगा। शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ( Govind Singh Dotasara ) के इस आशय के ट्वीट के बाद शिक्षा निदेशक ने गणतंत्र दिवस से यह व्यवस्था लागू करने के आदेश जारी किए हैं...

जयपुर। प्रदेश के स्कूली विद्यार्थियों को प्रार्थना सभा के दौरान अब संविधान का पाठ पढ़ाया जाएगा। शिक्षा राज्य मंत्री गोविन्द सिंह डोटासरा ( Govind Singh Dotasara ) के इस आशय के ट्वीट के बाद शिक्षा निदेशक ने गणतंत्र दिवस से यह व्यवस्था लागू करने के आदेश जारी किए हैं। शुरुआत में प्रार्थना सभा के दौरान शिक्षक बच्चों को संविधान की प्रस्तावना नियमित रूप से पढ़ाएंगे। बाद में बच्चों की टोली प्रार्थना की तरह संविधान की प्रस्तावना पढ़ेगी। 12वीं कक्षा तक की पुस्तकों के पहले पृष्ठ पर भी संविधान की उद्देश्यिका इसी सत्र से छपवाई जाएगी।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ( Sonia Gandhi ) की अध्यक्षता में 13 जनवरी को दिल्ली में हुई बैठक में इस संबंध में प्रस्ताव पारित हुआ था कि कांग्रेस शासित राज्यों में 26 जनवरी को संविधान की प्रस्तावना को पढऩे के कार्यक्रम रखे जाएंगे। जबकि 30 जनवरी को शहादत दिवस पर साम्प्रदायिक सौहार्द बनाने के कार्यक्रम होंगे।

सभी कांग्रेस शासित राज्यों में होगा लागू
अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के निर्देश के बाद इसे सभी कांग्रेस शासित प्रदेशों में लागू किया जाना है। महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ में इसे लागू किया जा चुका है। झारखंड और केरल सरकारें भी इसे जल्द लागू कर सकती हैं।

राज्य में 210 नए परीक्षा केन्द्र
वहीं दूसरी ओर राजस्थान माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ( Rajasthan Madhyamik Shiksha Board ) द्वारा वर्ष 2020 की मुख्य परीक्षाओं के लिए राज्य में 210 नए परीक्षा केन्द्र खोले जाएंगे। इनमें सर्वाधिक 22 केंद्र बाड़मेर जिले में खुलेंगे। इसके बाद इन सहित बोर्ड परीक्षाओं के लिए प्रदेशभर में 5680 परीक्षा केन्द्र हो जाएंगे। बोर्ड सचिव मेघना चौधरी ने बताया कि प्रत्येक जिले के जिला शिक्षा अधिकारी से चर्चा के बाद उसकी अनुशंसा पर बोर्ड ने नए केन्द्र खोलने की स्वीकृति जारी की है। इसके तहत जयपुर जिले में छह नए परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं। इसके बाद 10वीं-12वीं की बोर्ड परीक्षाओं में प्रदेश में सर्वाधिक परीक्षा केंद्र जयपुर जिले (556 केंद्र) में होंगे।

[MORE_ADVERTISE1]