स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Congress Crisis in Rajasthan : अब इस कांग्रेस विधायक ने दे डाली ऐसी चेतावनी, पार्टी नेताओं को किया सावधान

Dinesh Saini

Publish: May 30, 2019 10:11 AM | Updated: May 30, 2019 11:52 AM

Jaipur

Narendra Modi Oath Taking Ceremony : मोदी-1 मंत्रिमंडल: निहाल चंद किए गए थे शामिल, किसी को नहीं बनाया कैबिनेट मंत्री...

जयपुर।

लोकसभा चुनाव 2019 ( Lok Sabha Election 2019 ) में करारी हार के बाद प्रदेश कांग्रेस पार्टी में आए भूचाल ( Congress Crisis in Rajasthan ) के बीच अब एक और विधायक ने पार्टी को चेतावनी देते हुए सावधान रहने की सलाह दी है। उन्होने चेतावनी देते हुए कहा कि स्वार्थ को भूलकर राज्य के नेतृत्व को एक हो जाना चाहिए, वरना राज्य सरकार को संविधान की धारा 356 का इस्तेमाल कर जुलाई तक गिराया जा सकता है। यह बयान कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक रामनारायण मीणा ( Ram Narayan Meena ) ने ही दिया है। बुधवार को उनका एक वीडिया आया, जिसमें उन्होंने कहा कि आज भाजपा साम, दाम, दंड, भेद अपना रही है। कांग्रेस के नेताओं को सलाह देता हूं कि आपसी मनमुटाव छोड़ें। वरना नरेंद्र मोदी ( Narendra Modi ) इसी ताक में बैठे हैं कि संविधान की धारा 356 का इस्तेमाल कर दिया जाए।

 

 

Political crisis in congress लोकसभा चुनाव में करारी हार की जम्मेदारी लेते हुए राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ( Rahul Gandhi ) ने इस्तीफा दे दिया, लेकिन राजस्थान में सभी 25 सीटें गंवाने के बावजूद कांग्रेस की ओर से अब तक किसी ने हार की जिम्मेदारी नहीं ली है। प्रदेश कार्यकारिणी की बुधवार को हुई बैठक में भी राहुल के पास ही नेतृत्व रखे जाने को लेकर तो प्रस्ताव पारित कराया गया, लेकिन प्रदेश संगठन या सरकार में से किसी ने हार की जिम्मेदारी नहीं ली। प्रस्ताव में राहुल को संगठन में आमूल-चूल परिवर्तन के अधिकार भी दिए गए। लोकसभा चुनाव के जनादेश को विनम्रता के साथ स्वीकार करने के साथ कहा गया है कि मंत्री विधायक, पदाधिकारी व कार्यकार्ता आगामी चुनावों को लेकर जनता के बीच जाएंगे।

प्रस्ताव में कहा गया कि सभी प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य आत्म चिंतन के साथ पार्टी अध्यक्ष को अधिकृत करते हैं कि वे पार्टी के संगठनात्मक ढांचे में आमूल-चूल परिवर्तन करें। कांग्रेस चुनाव हारी है, लेकिन हमारा साहस, संघर्ष और सिद्धांतों के प्रति प्रतिबद्धता पहले से ज्यादा मजबूत है। कांग्रेस पार्टी नफरत और विभाजन की ताकतों से लोहा लेती रहेंगी।

 

Read More: पीएम मोदी के शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होंगे राजस्थान के 60 से ज्यादा भाजपा नेता

यह पहला या आखिरी चुनाव नहीं: पायलट
प्रदेशाध्यक्ष अध्यक्ष सचिन पायलट ने कहा कि यह पहला या आखिरी चुनाव नहीं है। इस जनादेश को हमने विनम्रता से स्वीकार किया है। राहुल गांधी ने भी स्वीकार किया है, हम सीटवार अध्ययन करेंगे कि राज्य में सरकार बनने के चार-पांच माह बाद ऐसे क्या हालात बने कि जनता ने भाजपा को चुना। राहुल गांधी ने खूब मेहनत की। लेकिन आज देश को मजबूत विपक्ष की जरूरत है। राज्य में सभी कांग्रेसी क्षेत्रों में जाएंगे और लोगों से संपर्क और बढ़ाएंगे। प्रदेश में हमारी सरकार है। हम जनता का काम करेंगे।

‘अध्यक्ष मंडल’ के नए फार्मूले पर भी कांग्रेस में विचार
लोकसभा चुनाव में लगातार दूसरी करारी शिकस्त के बाद कांग्रेस के भीतर बड़े बदलाव के संकेत मिलने लगे हैं। पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी इस्तीफा वापस लेने को तैयार नहीं। समाचार एजेंसी आइएएनएस के अनुसार पार्टी में एक नए फार्मूले पर भी विचार हो रहा है, जिसके तहत गांधी परिवार के तीनों सदस्य-सोनिया, राहुल और प्रियंका- पार्टी की रोजाना की गतिविधियों में शामिल नहीं होंगे।

एक अंतरिम कार्यकारी अध्यक्ष और दो या इससे ज्यादा उपाध्यक्ष एक अध्यक्ष-मंडल का निर्माण करेंगे, जो पार्टी का संचालन करेगा और चुनाव व प्रचार की योजना बनाएगा। सोनिया गांधी यूपीए की अध्यक्ष बनी रहेंगी। पार्टी के सबसे बुरे दौर में भी दक्षिण भारत से 23 सांसद चुनकर आए हैं, ऐसे में अंतरिम अध्यक्ष के तौर पर केरल से आने वाले संगठन महासचिव केसी वेणुगोपाल का नाम सबसे ऊपर माना जा रहा है।

Flashbag

 

मोदी सरकार लोकसभा चुनाव 2019 में प्रचंड जीत के बाद एक बार फिर से देश को नया मंत्रिमंडल देने जा रही है। 'पत्रिका' ने सरकार के नौ ऐसे अहम मंत्रालयों को चुना है जिनका सीधा असर आप पर पड़ता है। आप इन मंत्रालयों में किसे मंत्री के रूप में देखना चाहते हैं? तो बनाएं प्रधानमंत्री के लिए अपनी पसंद का मंत्रिमंडल और जीतें आकर्षक इनाम। इसके लिए आपको पत्रिका ऐप डाउनलोड करना है और नीचे बताए गए तरीके को फॉलो करना है-

 

चुनें:- मोदी किस मंत्री को अपने मंत्रिमंडल में रखना चाहेंगे

 

प्रतियोगिता में कैसे भाग लें

+ ( प्लस आइकॉन ) क्लिक करके अपने मंत्रालय को चुनें

सर्च कर अपने पसंदीदा मंत्री चुनें

मंत्री पद के लिए अपने सांसद को चुनें

सभी मंत्रालयों के लिए मंत्री चुनने के बाद सबमिट बटन क्लिक करें

 

नियम एवं शर्तें
1. पत्रिका के Flash Bag NaMo9 कॉन्टेस्ट में राजस्थान पत्रिका व patrika.com के सभी पाठक भाग ले सकते हैं।
2. इस कॉन्टेस्ट में आप ऑनलाइन या व्हाट्सएप के जरिए भी हिस्सा ले सकते हैं।
3. इनामों की घोषणा लक्की ड्रा के माध्यम से की जाएगी।
4. पत्रिका का यह कॉन्टेस्ट 29 मई , 2019 तक चलेगा।
5. विजेताओं के नामों की घोषणा लक्की ड्रा के जरिए 4 जून 2019 को की जाएगी।

6. Online Contest में शामिल होने के लिए Patrika app डाउनलोड करें या flashbag.patrika.com पर विजिट करें।

7. Flash Bag NaMo9 कॉन्टेस्ट के नियम एवं शर्तों में किसी प्रकार के परिवर्तन या संशोधन संबधी समस्त अधिकार पत्रिका प्रबंधन के पास रहेंगे।