स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

घायल व्यक्तियों का जीवन बचाने वाले मददगारों को पुलिस नहीं करेगी परेशान

Ankit Dhaka

Publish: Jan 24, 2020 18:55 PM | Updated: Jan 24, 2020 18:55 PM

Jaipur

- गृह विभान ने जारी किए निर्देश

 

 


जयपुर. सड़क दुर्घटनाओं में घायल व्यक्तियों का जीवन बचाने वाले लोगों को बार-बार पुलिस स्टेशन पर नहीं बुलाया जाएगा। इसके लिए उच्चतम न्यायालय के निर्णय के परिपेक्ष्य में गृह विभाग ने निर्देश जारी किए हैं।
अक्सर राजमार्गों व अन्य मार्गों पर दुर्घटना होने पर जो व्यक्ति मदद करते हैं, उन्हें बार-बार पुलिस स्टेशन बुलाया जाता है, जिससे कई बार अनावश्यक रूप से ऐसे लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ता है। इस वजह से लोग दुर्घटना के दौरान घायल की मदद नहीं करते हैं।

यह हैं निर्देश
- सड़क दुर्घटना में मददगार व्यक्ति किसी घायल व्यक्ति को निकटतम अस्पताल लेकर जा सकता है। ऐसे व्यक्ति को तुरंत जाने की अनुमति दी जाएगी। यदि वह प्रत्यक्षदर्शी है, तो स्वंय का पता बताने के बाद जाने दिया जाएगा।
- दुर्घटना में मददगार व्यक्ति किसी सिविल या आपराधिक दायित्व के लिए उत्तरदायी नहीं होगा।
- दुर्घटना में मददगार व्यक्ति यदि घायल व्यक्ति की सूचना पुलिस को देता है या आपातकालीन सेवाओं के लिए फोन करता है, तो उसे फोन पर या व्यक्तिगत रूप से उपस्थित होकर नाम एवं व्यक्तिगत जानकारी देने के लिए बाध्य नहीं किया जाएगा।
- दुर्घटना में मददगार व्यक्ति को अपना नाम अथवा व्यक्तिगत विवरण देने के लिए बाध्य या धमकाने पर संबंधित अधिकारी के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई की जाएगी।


[MORE_ADVERTISE1]