स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खुलासा : राजस्थान में नहीं है पपला गुर्जर, पकड़े गए साथियों ने कबूला, पुलिस की नजर से बचाकर कराई थी बॉर्डर पार

Pushpendra Singh Shekhawat

Publish: Sep 10, 2019 18:44 PM | Updated: Sep 10, 2019 18:44 PM

Jaipur

पकड़े गए साथियों ने बताया बॉर्डर पार दो दर्जन बदमाशों ने किया कुख्यात पपला का हथियारों से स्वागत, अब तक कुल पांच बदमाशों की गिरफ्तारी

मुकेश शर्मा / जयपुर। बहरोड़ थाने में अंधाधुंध फायरिंग कर कुख्यात पपला गुर्जर को छुड़ा ले जाने के मामले में उसके तीन गुर्गों को और गिरफ्तार किया गया है। एसओजी-एटीएस के एडीजी अनिल पालीवाल ने बताया कि किशनगढ़बास निवासी जगन खटाना, महिपाल गुर्जर और खैरथल निवासी सुभाष गुर्जर को गिरफ्तार किया गया है। तीनों आरोपियों ने थाने से भागने के बाद पपला और उसके साथियों की गाड़ी खराब हो जाने पर पुलिस की नजर से बचाते हुए हरियाणा सीमा तक पहुंचाया था। ये आरोपी मुंडावर क्षेत्र में कुख्यात पपला और साथियों को खेतों और कच्चे रास्तों से होते हुए करीब 40 किलोमीटर दूर बाइकों पर हरियाणा लेकर पहुंचे थे।

आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि हरियाणा में पपला को लेने के लिए करीब दो दर्जन बदमाश पहले से हथियारों के साथ तैयार खड़े थे। तीनों आरोपियों से पपला का राजस्थान आने जाने के दौरान संपर्क रहता था। आरोपी पहले से पपला को जानते थे। मामले में विनोद स्वामी और कैलाश चंद पहले ही गिरफ्तार हो चुके हैं। कुल पांच लोगों की अब तक गिरफ्तारी हो चुकी है। जबकि पपला सहित अन्य की तलाश जारी है।

सीमा की पुलिस चौकियों का भी बदलेगा स्टाफ!

उधर, बहरोड़ थाना पुलिस की कुख्यात पपला के भागने में मिलीभगत सामने आने के बाद अब हरियाणा सीमा से सटी राजस्थान पुलिस की चौकियों के स्टाफ को बदलने की भी सुगबुगाहट शुरू हो गई है। पुलिस मुख्यालय के एक अधिकारी ने बताया कि वर्षों से एक ही स्थान पर जमे हुए पुलिसर्किमयों की लिस्ट तैयार करवाई जा रही है। इसके बाद हरियाणा सीमा पर स्थित पुलिस चौकियों के स्टाफ को बदल दिया जाएगा।

आठ संदिग्ध भी एसओजी की हिरासत में, पूछताछ जारी

बहरोड़ के पास शाहजहांपुर थाना एसओजी और एटीएस का केन्द्र बनाया गया है। जयपुर रेंज आईजी एस. सेंगाथिर ने थाने में पहुंचकर गोपनीय तरीके से जांच की। शाहजहांपुर थाने में पपला गुर्जर को भगाने के मामले में 7-8 आरोपियों को हिरासत में ले रखा है, जिनसे गहन पूछताछ की जा रही है।