स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

23 अक्टूबर को पेट्रोल पंपों की सांकेतिक हड़ताल

Anil Chauchan

Publish: Oct 21, 2019 20:12 PM | Updated: Oct 21, 2019 20:12 PM

Jaipur

Petrol Pumps Strike : Central Government की ओर से Petrol and Diesel के दामों में की गई Tax वृद्धि के विरोध में Rajasthan Petroleum Dealers Association ने आंदोलन की रूप रेखा तैयार की है। इस कड़ी में 23 अक्टूबर को सुबह छह बजे से एक दिन की Symbolic Strike की जाएगी।

Petrol Pumps Strike : जयपुर . केन्द्र सरकार ( Central Government ) की ओर से पेट्रोल व डीजल ( Petrol and Diesel ) के दामों में की गई टेक्स वृद्धि के विरोध में राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोएिसशन ( Rajasthan Petroleum Dealers Association ) ने आंदोलन की रूप रेखा तैयार की है। इस कड़ी में 23 अक्टूबर को सुबह छह बजे से एक दिन की सांकेतिक हड़ताल ( Symbolic Strike ) की जाएगी।

23 अक्टूबर को पेट्रोल पंपों की सांकेतिक हड़ताल
24 अक्टूबर सुबह छह बजे तक रहेगी हड़ताल
दिवाली से पहले हड़ताल से होगी लोगों को परेशानी
पेट्रोल-डीजल पर टेक्स बढ़ोत्तरी का विरोध

केन्द्र सरकार की ओर से गत पांच जुलाई को अपने आम बजट में पेट्रोल व डीजल पर एक-एक प्रतिशत रोड सेस बढ़ाया है तथा एक रुपए प्रति लीटर कस्टम व एक्साइज ड्यूटी बढाई है। बाद में इसका सीधा-सीधा असर आम लोगों पर पड़ा। हाल यह है कि पेट्रोल व डीजल पर एक-एक प्रतिशत रोड सेस बढऩे के बाद से ही पेट्रोल-डीजल के दामों में लगातार वृद्धि होती जा रही है। इसके चलते महंगाई भी चरम पर हो गई है चाहे फिर वह सब्जी हो या फिर अन्य खाद्य पदार्थ।

पेट्रोल-डीजल पर बढ़ाया था एक-एक प्रतिशत रोड सेस
पांच जुलाई को बजट में की थी यह वृद्धि
आम लोगों पर पड़ गया इस वृद्धि का भार
पेट्रोल-डीजल पर दाम बढऩे से बढ़ गई महंगाई

पेट्रोल व डीजल पर एक-एक प्रतिशत रोड सेस बढऩे के विरोध में राजस्थान पेट्रोल-डीजल एसोसिएशन ने सरकार को ज्ञापन भी दिया पर कुछ नहीं हुआ। अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रूड ऑयल के दाम जुलाई में कम थे और अभी भी स्थिर बने हुए हैं। इसके बावजूद केन्द्र सरकार ने सेस व एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है।

आइए आपको दिखाते हैं कि वर्तमान में प्रतिलीटर के हिसाब से केन्द और राज्य सरकार ने पेट्रो पदार्थ यानि पेट्रोल और डीजल में कितनी एक्साइज ड्यूटी और रोड सेस लगा रहा है।

केन्द्र सरकार की स्थिति (प्रति लीटर)
पेट्रो पदार्थ - एक्साइज ड्यूटी - रोड सेस
पेट्रोल - 19 रुपए 48 पैसा - 8 प्रतिशत
डीजल - 15 रुपए 33 पैसा - 8 प्रतिशत

राज्य सरकार की स्थिति (प्रति लीटर)
पेट्रो पदार्थ - वेट - रोड सेस
पेट्रोल - 26 प्रतिशत - 1 रुपए 50 पैसा
डीजल - 18 प्रतिशत - 1 रुपए 75 पैसा

इस बढ़ोत्तरी के विरोध में अब राजस्थान पेट्रोल-डीजल एसोसिएशन ने आंदोलन करने की ठानी है और तय किया है कि जल्द से जल्द आंदोलन शुरू किया जाएगा। इसी कड़ी में राजस्थान पेट्रोलियम डीलर्स एसोसिएशन की ओर से दिवाली से पूर्व 23 अक्टूबर को प्रात: 6 से 24 अक्टूबर की प्रात: 6 बजे तक एक दिन की सांकेतिक हड़ताल की जाएगी। इस सांकेतिक हड़ताल के दौरान लोगों को पेट्रोल-डीजल उपलब्ध नहीं करवाया जाएगा। सरकार ने यदि इस संबंध में कोई निर्णय नहीं लिया तो अनिश्चित कालीन हड़ताल जैसा कदम भी उठाया जा सकता है।