स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सीएम गहलोत बोले, 'महात्मा गांधी से मिली ’निरोगी राजस्थान’ अभियान की प्रेरणा'

Firoz Khan Shaifi

Publish: Jan 20, 2020 22:07 PM | Updated: Jan 20, 2020 22:07 PM

Jaipur

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि दीन, हीन गरीब और जरूरतमंद लोगों की सेवा महात्मा गांधी की प्राथमिकता थी। उनके बताए रास्ते पर चलते हुए राज्य सरकार ’निरोगी राजस्थान’ अभियान चला रही है।

जयपुर। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि दीन, हीन गरीब और जरूरतमंद लोगों की सेवा महात्मा गांधी की प्राथमिकता थी। उनके बताए रास्ते पर चलते हुए राज्य सरकार ’निरोगी राजस्थान’ अभियान चला रही है।

गहलोत ने सोमवार को जोधपुर के बड़ा रामद्वारा विभिन्न विकास कार्यों के लोकार्पण समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि अभियान का उद्देश्य आमजन को बीमारियों की रोकथाम और स्वस्थ जीवन शैली अपनाने के लिए जागरूक करना है। राज्य सरकार विभिन्न रोगों के इलाज के लिए निःशुल्क दवाइयां और जांच की सुविधाएं उपलब्ध करा रही है।

उन्होंने कहा कि सरकार ने गौ-शालाओं के लिए अनुदान में भी बढ़ोतरी की है। गहलोत ने कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं के घूंघट में नहीं होने पर प्रसन्नता जाहिर की। उन्होंने कहा कि यह खुशी की बात है कि यहां बैठी किसी भी महिला ने घूंघट नहीं रखा है। यह राज्य सरकार की ओर से चलाए जा रहे ’घूंघट हटाओ’ अभियान का परिचायक है।

उन्होंने कहा कि राज्य सरकार महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए प्रतिबद्ध है। आज जब मनुष्य चंद्रमा पर पहुंच गया है, महिलाओं को घूंघट प्रथा से मुक्त रहना चाहिए।

मुख्यमंत्री ने लोगों का आह्वान किया कि वे बालिकाओं को शिक्षा के लिए प्रेरित कर समाज में आगे बढ़ाएं। उन्होंने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पहल पर हुए 73वें और 74वें संविधान संशोधन से स्थानीय प्रशासन में महिलाओं की राजनीतिक भागीदारी
सुनिश्चित हुई।

[MORE_ADVERTISE1]