स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान को जल्द मिलेंगे साढ़े तीन हजार पटवारी

chandra shekar pareek

Publish: Oct 10, 2019 20:27 PM | Updated: Oct 10, 2019 20:27 PM

Jaipur

शहर से लेकर गांव तक इस महकमे से हर व्यक्ति का वास्ता पड़ता है। लेकिन इसकी धीमी गति और कामचलाऊ प्रवृत्ति पर अब लगाम लगने वाली है। राजस्व विभाग अब अपने मेकओवर की दिशा में आगे बढ़ रहा है। इसकी शुरुआत विभाग की सबसे अहम कड़ी पटवारियों की भर्ती से हो रही है।

राजस्थान में पटवारियों की भर्ती प्रक्रिया अंतिम चरण में है तथा राज्य को 3 हजार 750 पटवारी शीघ्र ही मिलेंगे। पटवारियों से राजस्व निरीक्षक पद पर पदोन्नति भी की जा रही है। वरिष्ठ राजस्व निरीक्षकों से नायब तहसीलदार के शत-प्रतिशत रिक्त पद भरे जाएंगे।
डिजिटाइजेशन में तेजी पर जोर
राजस्व विभाग का सारा जोर इस समय राजस्व रिकॉर्ड के डिजिटाइजेशन पर है। इसके सकारात्मक परिणाम भी सामने आने लगे हैं। साथ ही, भूमि राजस्व की नियमावली के पुराने नियम दूर करने एवं नए प्रावधान जोड़े जाएंगे।
कर्मियों की ट्रेनिंग की तैयारी
सेटलमेंट का कार्य व्यवस्थित हो, इसके लिए राजस्वकर्मियों को टे्रनिंग दिलवाने की भी कही जा रही है। ऑनलाइन म्यूटेशन की शुरुआत चौमूं से हो चुकी है। इसके तहत महिलाओं को हक लाभ की व्यवस्था सुनिश्चित की जा रही है।
स्टेनो की कमी आ रही आड़े
राजस्व न्यायालय के प्रकरणों को समय पर निस्तारित नहीं किया गया तो छुट्टियों में कैम्प लगाकर निपटाने होंगे। मामलों को निपटाने में स्टेनो की कमी भी आड़े आ रही है।