स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुद्दों पर ध्यान देने की बजाए देश को बांटने का काम कर ही है मोदी सरकारः पायलट

Firoz Khan Shaifi

Publish: Dec 25, 2019 18:49 PM | Updated: Dec 25, 2019 18:49 PM

Jaipur

राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट मोदी सरकार पर हमला बोला है। पायलट ने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले एनआरसी लागू करने के लिए कहा फिर उससे अब मना करते हैं। पायलट ने केंद्र सरकार के मंत्री कुछ और कहते हैं और प्रधानमंत्री कुछ और कहते हैं, लेकिन करते कुछ और हैं।

जयपुर। राष्ट्रीय जनसंख्या रजिस्टर (एनपीआर) को लेकर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट मोदी सरकार पर हमला बोला है। पायलट ने कहा कि केंद्र सरकार ने पहले एनआरसी लागू करने के लिए कहा फिर उससे अब मना करते हैं। पायलट ने केंद्र सरकार के मंत्री कुछ और कहते हैं और प्रधानमंत्री कुछ और कहते हैं, लेकिन करते कुछ और हैं।

दरअसल भाजपा की मंशा कुछ और है। सीएए लागू कर यह देश को बांटने की कोशिश कर रहे हैं। पायलट ने कहा कि अब एनपीआर को बीच में लाकर भाजपा जनता को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। पायलट ने कहा कि भाजपा को जनता नकार रही है, उसे झारखंड हार पर मंथन करना चाहिए।

पहले ही महाराष्ट्र में सरकार बनाने से वो बाहर हो चुकी है।देश की अर्थव्यवस्था पटरी से उतर चुकी है और नौजवान बेरोजगार है। इन मुद्दों पर भाजपा कोई ध्यान नहीं दे रही है और वह देश को बांटने का प्रयास कर रही है, लेकिन बीजेपी की देश को बांटने की राजनीति कभी कामयाब नहीं होगी।


28 दिसंबर को देश बचाओ-संविधान बचाओ मार्च
वहीं दूसरी ओर देश में गिरती अर्थव्यवस्था और एनआरसी के विरोध में 28 दिसंबर को देश भर में कांग्रेस देश बचाओ-संविधान बचाओ मार्च निकालने जा रही है। राजधानी जयपुर में भी 28 दिसंबर को सुबह 8 बजे शहीद स्मारक से प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय तक शांति मार्च निकाला जाएगा।

इसकी तैयारियों को लेकर बुधवार को प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट ने जयपुर जिले के सभी विधायकों और विधानसभा प्रत्याशी रहे नेताओं की बैठक ली और पैदल मार्च में ज्यादा से ज्यादा भीड़ जुटाने और मार्च को सफल बनाने का आह्वान किया।

बैठक में मंत्री प्रताप सिंह, विधानसभा मुख्य सचेतक महेश जोशी, विधायक रफीक खान अमीन कागज़ी, इंद्रराज गुर्जर, अर्चना शर्मा, निर्दलीय विधायक बाबूलाल नागर और आलोक बेनीवाल भी इस बैठक में शामिल हुए। वहीं कृषि मंत्री लालचंद कटारिया और मंत्री राजेंद्र यादव जयपुर से बाहर होने के चलते इस बैठक में शामिल नहीं हो सके।

[MORE_ADVERTISE1]