स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्रदेश के कई जिलों में बारिश और ओलावृष्टि के आसार, पश्चिमी विक्षोभ बढ़ाएगा ठंड

Dinesh Saini

Publish: Dec 11, 2019 08:03 AM | Updated: Dec 11, 2019 08:15 AM

Jaipur

पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से उत्तर भारत के राज्यों और पहाड़ों पर बारिश-बर्फबारी की संभावना है। जिसके चलते प्रदेश के उत्तरी पश्चिमी हिस्से में बुधवार की रात से मौसम ( Rajasthan Weather Update ) का मिजाज बदलने वाला है। मौसम विभाग द्वारा 12 और 13 दिसंबर को प्रदेश के करीब एक दर्जन से ज्यादा जिलों में मौसम में बदलाव के साथ बारिश ( Mavath in Rajasthan ) की चेतावनी भी जारी की गई है...

जयपुर। पश्चिमी विक्षोभ के सक्रिय होने से उत्तर भारत के राज्यों और पहाड़ों पर बारिश-बर्फबारी की संभावना है। जिसके चलते प्रदेश के उत्तरी पश्चिमी हिस्से में बुधवार की रात से मौसम ( Rajasthan Weather Update ) का मिजाज बदलने वाला है। मौसम विभाग द्वारा 12 और 13 दिसंबर को प्रदेश के करीब एक दर्जन से ज्यादा जिलों में मौसम में बदलाव के साथ बारिश ( Mavath in Rajasthan ) की चेतावनी जारी की गई है। मौसम विभाग ( IMD ) ने आगामी तीन दिनों में मौसम परिवर्तन का अलर्ट जारी किया है। पश्चिमी विक्षोभ के असर से प्रदेश के सीमावर्ती जिलों के साथ ही उत्तरी जिलों में भी बादल छाए रहने के साथ बारिश होने की संभावना मौसम विभाग की ओर से जताई गई है। इस दौरान इन हिस्सों में प्रशासन को भी अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। मौसम विभाग के अनुसार 12 और 13 दिसंबर में मौसम में बदलाव के बाद प्रदेश में दिन और रात के तापमान में एक साथ भारी गिरावट ( cold in rajasthan ) की संभावना व्यक्त की है।

इन जिलों में हो सकती है बारिश ( rajasthan weather forecast )
पूर्वी राजस्थान के झुंझुनूं, सीकर, अलवर, भरतपुर, दौसा, जयपुर, धौलपुर सहित कई जिलों में जहां मेघगर्जना के साथ बारिश और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। वहीं पश्चिमी राजस्थान के भी जैसलमेर, बीकानेर, गंगानगर, हनुमानगढ़, नागौर, चूरू में मेघगर्जना के साथ बारिश और ओलावृष्टि की संभावना व्यक्त की गई है।

पंजाब से होता हुआ हरियाणा और दिल्ली के ऊपर से गुजरेगा पश्चिमी विक्षोभ
मौसम विभाग ने बुधवार को जयपुर में आंशिक रूप से बादल छाए रहने की संभावना जताई है। ठंड के साथ-साथ अब कोहरा भी दस्त देगा। जिससे वाहन चालकों को परेशानी उठानी पड़ सकती है। मैदानी क्षेत्रों में बारिश की संभावना ज्यादा है। हरियाणा व पंजाब से लेकर दिल्ली, राजस्थान व उत्तर प्रदेश में बारिश से ठंडक बढ़ेगी। मौसम विभाग के अनुसार ईरान और अफगानिस्तान के सीमावर्ती क्षेत्रों में पश्चिमी विक्षोभ बन रहा है, जो 12-13 दिसंबर को पंजाब से होता हुआ हरियाणा और दिल्ली के ऊपर से गुजरेगा।

घाटी में हवाई सेवाएं 5वें दिन भी बाधित
अगले चार दिन तक जम्मू कश्मीर में मौसम सुधारने की कोई संभावना नहीं दिखाई दे रही। घने कोहरे का कहर बना हुआ है। वादी का हवाई संपर्क पांचवें दिन भी अन्य राज्यों से कटा रहा। डल झील में बर्फ की परत और मोटी हो रही है।

[MORE_ADVERTISE1]