स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

लंबी दूरी की उड़ानें स्वास्थ्य के लिए घातक

Dhairya Kumar Mishra

Publish: Nov 17, 2019 21:51 PM | Updated: Nov 17, 2019 21:51 PM

Jaipur

बिना रुके और बिना थके लगातार की गई हवाई यात्रा भी स्वास्थ्य के लिए घातक हो सकती है। लंदन की ईवा सिमंस ने हाल ही में दुनिया की सबसे लंबी हवाई यात्रा की। लंदन से सिंगापुर तक करीब 19 घंटे की इस यात्रा के बारे में सिमंस ने अपने अनुभवों को साझा किया और बताया कि आखिर क्यों लंबी दूरी की उड़ान भयावह होती है।

लंदन. बिना रुके और बिना थके लगातार की गई हवाई यात्रा भी स्वास्थ्य के लिए घातक हो सकती है। लंदन की ईवा सिमंस ने हाल ही में दुनिया की सबसे लंबी हवाई यात्रा की। लंदन से सिंगापुर तक करीब 19 घंटे की इस यात्रा के बारे में सिमंस ने अपने अनुभवों को साझा किया और बताया कि आखिर क्यों लंबी दूरी की उड़ान भयावह होती है। सिमंस ने बताया कि 40 हजार फुट की ऊंचाई पर सामान्य की तुलना में 100 गुना ज्यादा विकिरण मिला। दिल की धड़कन और ब्लड शुगर लेबल भी काफी बढ़ गया। सिमंस के अनुसार, 40 हजार फुट की ऊंचाई पर 19 घंटे की यात्रा में पुनर्नवीनीकृत हवा में सांस लेना सामान्य की अपेक्षा कभी भी बेहतर एहसास नहीं करा सकता। इस तरह की यात्रा आपके स्वास्थ्य पर दीर्घकालिक नुकसान पहुंचा सकते हैं। सिमंस ने बताया कि विमान के केबिन की हवा अस्थमा, छाती में संक्रमण और कैंसर का भी खतरा बढ़ाती है। विमानों में साफ हवा के लिए अभियान चलाने वाले ब्रिटिश एयरवेज के पूर्व कप्तान ट्रिस्टन लॉराइन के मुताबिक, विमान के ईंधन में जहरीले यौगिकों के कारण अंदर की हवा दूषित हो जाती है।

[MORE_ADVERTISE1]