स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

प्याज का अवैध भंडारण, रसद विभाग ने मारे छापे, सामने आई ये सच्चाई

Dinesh Saini

Publish: Dec 11, 2019 09:00 AM | Updated: Dec 11, 2019 09:01 AM

Jaipur

Illegal Onion Storage: प्याज की कीमत ( Onion Price ) को लेकर मचे हंगामे के बीच राज्य सरकार ने विभिन्न जिलों में प्याज के अवैध भंडारण ( Illegal Onion Storage ) के खिलाफ मंगलवार से कार्रवाई शुरू कर दी। रसद विभाग ने दौसा, टोंक, करौली और नागौर सहित विभिन्न जिलों में छापे मारे...

जयपुर। प्याज की कीमत ( Onion price ) को लेकर मचे हंगामे के बीच राज्य सरकार ने विभिन्न जिलों में प्याज के अवैध भंडारण ( Illegal Onion Storage ) के खिलाफ मंगलवार से कार्रवाई शुरू कर दी। रसद विभाग ने दौसा, टोंक, करौली और नागौर सहित विभिन्न जिलों में छापे मारे। गौरतलब है कि सोमवार को केन्द्र सरकार ने खुदरा प्याज व्यापारियों के लिए भंडारण सीमा 5 टन से घटाकर 2 टन कर दी है। इससे 15 दिन पहले यह सीमा 10 टन से घटाकर 5 टन की थी। इस पर राज्य के खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग ( Food and Civil Supplies Department ) ने कार्रवाई के लिए जिला रसद अधिकारियों को निर्देश दिए थे।

प्रदेश की कई मंडियों और दुकानों में टीम ने की जांच
राज्य सरकार के दिशा निर्देशानुसार प्याज की बढ़ती कीमतों को रोकने के लिए मंगलवार को रसद विभाग की ओर से दौसा, नागौर, करौली, उदयपुर सहित कई जिलों में प्याज व्यापारियों के यहां औचक निरीक्षण किया गया। जिला रसद अधिकारी पार्थसारथी के नेतृत्व में गए निरीक्षण दल ने जिला मुख्यालय स्थित सब्जी मंडी में प्याज के थोक व्यापारियों एवं नागौर शहर में खुदरा व्यापारियों के यहां प्याज के स्टॉक की आकस्मिक जांच की। जिला रसद अधिकारी पार्थसारथी ने बताया कि सब्जी मंडी में प्याज के तीन थोक व्यापारियों के संस्थानों पर आकस्मिक निरीक्षण कर स्टॉक की जांच की गई। उन्होंने बताया कि तीनों थोक व्यापारियों के यहां स्टॉक निर्धारित सीमा में ही पाया गया वहीं नागौर शहर में स्थित प्याज के तीन खुदरा व्यापारियों के यहां स्टॉक की जांच की गई, वहां भी किसी प्रकार की गड़बड़ी नहीं पाई गई।

6 दुकानों पर जांच
चित्तौडगढ़़ में रसद अधिकारी बिजल सुराणा के नेतृत्व में विभाग की एक टीम ने थोक मंडी में करीब आधा दर्जन दुकानों पर जांच की और वहां प्याज का स्टॉक देखा जांच के दौरान कहीं पर भी निर्धारित मात्रा से अधिक प्याज का स्टॉक नहीं मिला।

यहां प्याज ही नहीं मिले
उदयपुर शहर में रसद विभाग की टीमों ने प्याज के स्टॉक की जांच करने के लिए अलग-अलग दुकानों पर छापे मारे। किसी भी स्टॉकिस्ट व दुकानदार के पास प्याज का भंडार नहीं मिला। जिला रसद अधिकारी ज्योति ककवानी के नेतृत्व में टीमों ने कृषि मंडी एवं अन्य दुकानदारों के वहां जांच की। टीम को 25 टन प्याज पूरी मंडी में ही नहीं मिले।

किया पाबंद
दौसा जिला रसद कार्यालय की टीम ने मंडी में प्याज के होलसेल व्यापारियों की दुकानों की जांच कर भौतिक सत्यापन किया। साथ ही प्याज की बढ़ती कीमतों एवं स्टॉक संबंधित दिशा-निर्देशों की पालना के लिए सभी व्यापारियों को पाबंद किया गया। रसद अधिकारी ने चेतावनी दी कि प्याज का स्टॉक कर गड़बड़ी करने की कोशिश की गई तो सख्त कार्रवाई की जाएगी।

[MORE_ADVERTISE1]