स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सिरफिरा ​आशिक है युवती की गोली मार हत्या करने वाला, 2011 में एक लड़की पर फेंक चुका है तेजाब

Pushpendra Singh Shekhawat

Publish: Nov 12, 2019 20:10 PM | Updated: Nov 12, 2019 20:10 PM

Jaipur

शादी से इंकार करने पर युवती की गोली मार कर हत्या, सिरफिरे ने खुद को भी गोली से उड़ाया, अस्पताल में गंभीर, 2011 में विद्याधर नगर में एक युवती पर फेंक चुका है तेजाब

मुकेश शर्मा / जयपुर। कालवाड़ रोड स्थित श्रीराम नगर एक्सटेंशन में युवती की गोली मारकर हत्या कर, फिर खुद की कनपटी पर गोली मारने वाला सिरफिरा आशिक पुराना अपराधी है। आरोपी ने वर्ष 2011 में विद्याधर नगर में एक युवती पर तेजाब डालने के अपराध में जेल भी जा चुका है। वहीं युवती के परिजनों ने युवक और उसके परिजनों पर शादी नहीं करने पर उनकी बेटी की हत्या करने का मामला दर्ज कराया है। उनका आरोप है कि शादी से इंकार करने पर युवक ने वारदात को अंजाम दिया है। उधर युवती की हत्या के बाद आरोपी ने खुद की कनपटी पर भी गोली मार आत्महत्या का प्रयास किया। आरोपी गंभीर हालत में निजी अस्पताल में भर्ती है।

पुलिस के अनुसार कालवाड़ रोड स्थित श्रीराम नगर बी निवासी राजेश सोनी की बेटी वर्षा सोनी (27) हत्या की शिकार हुई। खुद को गोली मारने वाला गोविंद सोनी उर्फ गुड्डू भी वर्षा के घर करीब डेढ़ सौ मीटर दूर श्रीराम नगर सी निवासी है। घटना में काम ली गई पिस्टल अवैध है।

कैसे कर देते शादी, एक लड़की पर तेजाब डालने के मामले में जेल जा चुका था आरोपी

वर्षा के पिता राजेश सोनी ने बताया कि घर के नजदीक और समाज का होने पर गोविंद को जानते थे। गोविंद उनके घर के बाहर लग्जरी बाइक लेकर चक्कर काटता था। वह कुछ काम करता नहीं था। विद्याधर नगर में एक युवती पर तेजाब डालने के मामले में जेल जा चुका था। गोविंद जबरन उनकी बेटी से शादी करना चाहता था। करीब बीस पच्चीस दिन पहले भी गोविंद के परिवार वाले बेटी की शादी करने के लिए उनके पास आए थे। लेकिन बेटी और उन्होंने शादी करने से मना कर दिया। तब गोविंद घर पर आया और धमकी दी कि वर्षा और राजेश सोनी के परिवार के अन्य लोगों को जान से मार देगा। आखिरकार उसने बेटी को मार डाला। उधर पुलिस ने बताया कि गोविंद वर्ष 2011 में एक युवती पर तेजाब डालने के मामले में जेल जा चुका है।

ऐसे लोगों के व्यक्तित्व में होता है डिफेक्ट

इस तरह के लोगों के व्यक्तित्व में डिफेक्ट होता है। इनमें पर्सनेलिटी डिसऑर्डर की संभावना हो सकती है। ये दूसरों के इमोशन की कद्र नहीं करते। सिर्फ अपना सुख देखते हैं। साथ ही जिनसे वह प्रेम करते हैं उन्हें किसी भी हद तक पा सकते हैं। ऐसे लोग नहीं चाहते कि किसी और के साथ शादी हो। बदले की भावना के साथ काम करते हैं। इस तरह के लोगों का बचपन ट्रोमेटिक होता है। इनमें आगे जाकर अपराध करने की प्रवृत्ति उत्पन्न हो जाती है।

- डॉ. आर.के. सोलंकी, विभागाध्यक्ष, मनोचिकित्सा विभाग, एसएमएस मेडिकल कॉलेज

[MORE_ADVERTISE1]