स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

मुख्य हथियार सप्लायर पकड़ा तो बोला, खानदानी पेशा है, 20 साल में 500 देशी कट्टे बनाकर बेच चुका हूं

Pushpendra Singh Shekhawat

Publish: Nov 12, 2019 21:47 PM | Updated: Nov 12, 2019 21:47 PM

Jaipur

एसओजी की कार्रवाई : कबाड़ के सामान से बनाता था देशी कट्टे

मुकेश शर्मा / जयपुर। राजस्थान एसओजी की कोटा यूनिट ने मध्यप्रदेश से राजस्थान में हथियारों की सप्लाई करने वाले मुख्य सप्लायर हिस्ट्रीशीटर बहादुर सिंह उर्फ सरदार को गिरफ्तार किया है। एसओजी की टीम मुखबिर की सूचना पर आरोपी को मध्यप्रदेश से ही पकड़ा।

एसओजी-एटीएस के एडीजी अनिल पालीवाल ने बताया कि मध्यप्रदेश के बड़वानी निवासी बहादुर सिंह की धरपकड़ के लिए टीम में शामिल जवान और अधिकारियों ने अपनी पहचान छिपाकर पलसूद गांव की निगरानी की। मुखबिर से पुख्ता सूचना मिली कि आरोपी अपने गांव पहुंचा है, तभी उसे पकड़ लिया गया। पूछताछ में आरोपी ने बताया कि अवैध हथियार बनाना उसका खानदानी पेशा है। 20 वर्षों में अब तक करीब 500 देशी कट्टे बनाकर विभिन्न राज्यों में सप्लाई कर चुका है।

कबाड़ के सामान से बनाते हैं देशी कट्टे

एडीजी पालीवाल ने बताया कि आरोपी बहादुर सिंह ने पूछताछ में बताया कि सिकलीगर जाति के जरायमपेशा ये लोग पानी के खराब पाईप व कबाड़ी से मिले सामान का इस्तेमाल कर अवैध देशी कट्टे, पिस्टल व रिवाल्वर की शक्ल दे देने में माहिर है। इतना ही नहीं, ये लोग कारतूस भी बना लेते हैं। एक देशी कट्टा दो से ढाई हजार रुपए में बेचते हैं, जो अपराध जगत में बीस से पच्चीस हजार रुपए में बिकता है। आरोपी बहादुर के खिलाफ मध्यप्रदेश में ही आठ मामले दर्ज हैं।

[MORE_ADVERTISE1]