स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

23 राजनीतिक दलों की आय सालभर में 251% बढ़ी

Vijayendra Kumar Rai

Publish: Dec 08, 2019 20:39 PM | Updated: Dec 08, 2019 20:39 PM

Jaipur

एडीआर की रिपोर्ट : भाजपा और कांग्रेस समेत 35 दलों ने नहीं बताई आय

 

नई दिल्ली.
राजनीतिक दलों की आय में सालभर में 251 फीसदी का इजाफा हुआ है। एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉम्र्स (एडीआर) की ताजा रिपोर्ट के मुताबिक वित्तीय वर्ष 2018-19 में 2017-18 की तुलना में 23 दलों की आय 329 करोड़ रुपए से बढ़कर 1155 करोड़ रुपए हो गई है। चंदा, सदस्यता शुल्क और दान के रूप में दलों के ये पैसे मिले हैं। खास बात यह है कि भाजपा और कांग्रेस समेत 5 राष्ट्रीय और 30 क्षेत्रीय दलों की आय का ब्योरा चुनाव आयोग की वेबसाइट पर उपलब्ध नहीं है। जबकि दलों को 31 अक्टूबर 2019 तक ब्योरा चुनाव आयोग को उपलब्ध करवाना था। 3 राष्ट्रीय और 22 क्षेत्रीय दलों ने ही तय समय तक रिपोर्ट पेश की। इनमें से भी दो ने एक साल पुराने आय के आंकड़े उपलब्ध नहीं कराए।


सबसे ज्यादा आय बीजद की
उपलब्ध आंकड़ों के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान सबसे ज्यादा आय ओडिशा की क्षेत्रीय पार्टी बीजू जनता दल (बीजद) ने घोषित की है। दूसरे नंबर पर तृणमूल कांग्रेस और तीसरे पर तेलंगाना राष्ट्र समिति (टीआरएस) है। इन तीनों पार्टियों की आय 630.67 करोड़ रुपए है, जो उपलब्ध 25 पार्टियों की आय के 54त्न से ज्यादा है।


किस दल की कितनी आय
दल आय हिस्सेदारी
बीजद 249.31 करोड़ 21.43%
तृणमूल 192.65 करोड़ 16.56%
टीआरएस 188.71 करोड़ 16.22%
वायएसआर कांग्रेस 181.08 करोड़ 15.57%
माकपा 100.96 करोड़ 8.68%
अन्य 250.46 करोड़ 21.53%
(25 पार्टियों की कुल आय 1163.17 करोड़ रुपए)


17 दलों की आय बढ़ी, 6 की घटी
एडीआर की रिपोर्ट के मुताबिक 25 में से 17 पार्टियों की आय बढ़ी है, छह की घटी है। टॉप-5 दलों में से केवल माकपा की आय करीब 4 करोड़ रुपए घटी है। चुनाव आयोग की वेबसाइट पर दो क्षेत्रीय दलों (पीडीए और एनडीपीपी) के 2017-18 के आंकड़े उपलब्ध नहीं हैं।

केवल माकपा की आमदनी घटी
दल 2017-18 2018-19
बीजद 14.11 करोड़ 249.31 करोड़
तृणमूल 5.17 करोड़ 192.65 करोड़
टीआरएस 27.27 करोड़ 188.71 करोड़
वायएसआर कांग्रेस 14.24 करोड़ 181.08 करोड़
माकपा 104.84 करोड़ 100.96 करोड़


6 दलों ने आय से ज्यादा खर्च किया
वित्त वर्ष 2018-19 के दौरान 6 पार्टियों (सपा, शिरोमणि अकाली दल, इनेलो, मनसे, रालोद और एनपीएफ) ने अपनी आय से अधिक खर्च की जानकारी दी है। 3 राष्ट्रीय और 22 क्षेत्रीय दलों ने मिलाकर कुल 442.73 करोड़ रुपए खर्च किए।

पार्टी खर्च
तृणमूल कांग्रेस 94%
एनडीपीपी 87%
टीआरएस 84%

आधे से ज्यादा कमाई चुनावी बॉन्ड से
वित्तीय वर्ष 2018-19 के दौरान इन 25 दलों को चुनावी बॉन्ड्स से 587.87 करोड़ रुपए की आय हुई। यह कुल कमाई का 50.54 प्रतिशत है। दान से इन दलों को 305.53 करोड़ रुपए मिले, जो कुल आय का 26.28 फीसदी है। चुनावी बॉन्ड से तृणमूल ने 97.28 करोड़ रुपए जुटाए। सदस्यता शुल्क से 25 दलों को 12.13 फीसदी राशि मिली।

स्रोत आय (रुपए में)
चुनावी बॉन्ड्स 588 करोड़
अन्य दान 306 करोड़
सदस्यता शुल्क 141 करोड़
एफडी व ब्याज 116 करोड़

[MORE_ADVERTISE1]