स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Imran khan: कुछ नहीं मिला, तो लेखक बन इमरान ने अलापा कश्मीर राग!

Sangeeta Chaturvedi

Publish: Aug 31, 2019 14:34 PM | Updated: Aug 31, 2019 14:34 PM

Jaipur

Imran khan: कुछ नहीं मिला, तो लेखक बन इमरान
ने अलापा कश्मीर राग!

Imran khan: पूरी दुनिया में हाथ पैर मारने के बाद कश्मीर मामले में पाक पीएम इमरान खान को किसी का साथ नहीं मिला.. फिर भी उनका कश्मीर को लेकर राग अलापना बंद नहीं हुआ है... खान ने एक बार फिर कश्मीर राग अलापा है और फिर से युद्द की धमकी दी है... खान ने कहा है कि अगर भारत जम्मू-कश्मीर पर फैसला पलटता है और सेना को वापस बुलाता है तभी बातचीत संभव है। दरअसल आर्टिकल 370 हटाए जाने पर बौखलाए पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान एक लेख लिखा है... इसमें उन्होंने कहा है कि अगर भारत जम्मू-कश्मीर से विशेष दर्जा हटाने का फैसला पलटता है, प्रतिबंधों को खत्म करता है और अपनी सेना को वापस बुलाता है, तभी उसके साथ बातचीत हो सकती है। इतना ही नहीं इस दौरान इमरान ने एक बार फिर युद्ध की चेतावनी दी। लेख में इमरान ने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने के भारत सरकार के फैसले को गैर-कानूनी बताया... लेख में खान ने द्वितीय विश्व युद्ध के घटनाक्रम को याद करते हुए लिखा है कि दूसरा विश्व युद्ध म्यूनिख में तुष्टिकरण की नीति की वजह से हुआ, इस बार भी दुनिया पर कुछ ऐसा ही खतरा मंडरा रहा है, लेकिन इस बार ये खतरा परमाणु युद्ध का है. इमरान खान ने कहा है कि यदि कश्मीर मामले में दुनिया के नेताओं की चुप्पी बरकरार रही तो इसका नतीजा पूरे वल्र्ड को झेलना पड़ सकता है क्योंकि परमाणु हथियारों से लैस दो देश सीधे टकराव की स्थिति में आ गए हैं. खान ने कहा, कश्मीर पर संवाद में सभी पक्षकार खासतौर से कश्मीरी शामिल होने चाहिए। लेकिन वार्ता तभी शुरू हो सकती है जब भारत कश्मीर के अवैध कब्जे को वापस ले, कफ्र्यू हटाए और अपनी सेना वापस बुलाए। गौरतलब है कि पाक पीएम इमरान खान ने जम्मू-कश्मीर में घटनाक्रमों पर चर्चा करने के लिए संयुक्त अरब अमीरात के शहजादे मोहम्मद बिन जायद से शुक्रवार को फ ोन पर बातचीत की. प्रधानमंत्री कार्यालय ने बताया कि खान ने शहजादे को जम्मू- कश्मीर में हफ्तों से चल रहे कफ्र्यू के बारे में बताया जिससे घोर मानवाधिकार हुए और मानवीय संकट पैदा हो गया। खान ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर भारत के कथित संघर्ष विराम उल्लंघन बढ़ गए हैं। आपको यह भी बता दें कि खान ने शहजादे को फ ोन ऐसे समय में किया जब जायद ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को अबु धाबी में राष्ट्रपति पैलेस में संयुक्त अरब अमरीत के सर्वोच्च नागरिक सम्मान ऑर्डर ऑफ जायद से सम्मानित किया.... बहरहाल कूटनीतिक मोर्चे पर नाकाम होने के बाद पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान अब अखबारों में लेख लिखने लगे हैं।