स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब राजधानी में एक ही जगह होंगे सभी कोचिंग सेंटर, बनेगा गुलाबी नगरी में पहला कोचिंग हब

Ashwani Kumar

Publish: Oct 09, 2019 22:57 PM | Updated: Oct 09, 2019 22:57 PM

Jaipur

-तीन लाख से अधिक छात्र-छात्राएं राजधानी में रहकर करते तैयारी

जयपुर। हाउसिंग बोर्ड राजधानी में पहला कोचिंग हब बनाने की तैयारी में हैं। इसको लेकर जल्द ही बोर्ड के अधिकारियों और कोचिंग एसोसिएशन के पदाधिकारियों के साथ बैठक होगी। अभी शहर में रिहायशी क्षेत्रों में बड़ी संख्या में नियम विरुद्ध कोचिंग सेंटर चल रहे हैं। इससे स्थानीय लोगों को परेशानी होती है। जल्द ही कोचिंग संस्थानों से प्रस्ताव और सुझाव आमंत्रित किए जाएंगे। इसमें वे बताएंगे कि उन्हें किस तरह के भूखंड चाहिए, जहां वे छात्रों के लिए उपयोगी भवन बना सकें।
हाउसिंग बोर्ड कमिश्नर पवन अरोड़ा ने बताया कि प्रतापनगर के हल्दीघाटी मार्ग पर बोर्ड की 65000 मीटर जगह खाली है। कोचिंग एसोसिएशन के साथ जल्द बैठक करेंगे और उनसे सुझाव मांगेगे। जरूरत के हिसाब से सुविधाओं को भी विकसित करेंगे, ताकि बच्चों को बाहर नहीं जाना पड़े। बोर्ड के इस फैसले का राजस्थान कोचिंग एसोसिएशन के अध्यक्ष रघुवीर सिंह डागुर ने स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि यदि छात्र-छात्राओं को एक ही जगह पर पढऩे का माहौल मिल जाएगा तो और बेहतर परिणाम सामने आएंगे।

बैठक में दिए थे संकेत
27 अगस्त को नगरीय विकास विभाग की कोचिंग संस्थानों के प्रतिनिधिमंडल के साथ बैठक हुई थी। इसमें विभाग के प्रमुख सचिव भास्कर ए सावंत ने इस बात के संकेत दिए थे कि शहर में कोचिंग हब के लिए प्रयास किया जाएगा।

इसलिए होती कार्रवाई: अधिकतर कोचिंग संस्थानों के पास मापदंडों के अनुसार न तो भवन हैं और न ही पार्किंग के लिए स्थान है।