स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

वो तो अलमारी खरीदने आया था, दो औरतें उसके कपड़े निकालने लगी..

Jayant Sharma

Publish: Sep 21, 2019 11:33 AM | Updated: Sep 21, 2019 11:33 AM

Jaipur

वो तो अलमारी खरीदने आया था, दो औरतें उसके कपड़े निकालने लगी.. फिर

जयपुर
Honey Trap Case : 5 Arrest in Rajasthan राजस्थान के हनुमानगढ़ जिले में तीन महिलाओं ने एक आदमी को अपने चंगुल में फंसाया। उसे घर बुलाया, उसके साथ सबंध बनाने की कोशिश की, वीडियो बनाया और वायरल करने की धमकी देकर दस लाख रुपए की मांग की। पीड़ित पुलिस के पास पहुंचा तो पुलिस ने तुरंत कार्रवाई करते हुए तीन महिलाओं समेत पांच लोगों को धर दबोचा। घटना टिब्बी थाना इलाके की है। जांच कर रही पुलिस ने बताया कि पीड़ित हनुमानगढ़ टाउन की अंबेडकर कॉलोनी का रहने वाला है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। टाउन निवासी सोमप्रकाश ने टिब्बी पुलिस को बताया कि वह हनुमानगढ़ के सरकारी अस्पताल में दवाई लेने गया था। उसी दौरान पास में बैठे पीरकामड़िया निवासी अकरम उर्फ अख्तर हुसैन उर्फ गौरु से बातचीत करने लगा। अपने जूती के व्यवसाय के बारे में बताया तो उसने पीरकामड़िया में अपनी परिचित अनारा बीबी के पास अलमारी व काउंटर पड़ा होने की बात कही ताे उसका मोबाइल नंबर काॅल की। घर आकर अलमारी काउंटर दे लेने की बात कहीं। जिसके बाद वह शाम 7 बजे पीरकामड़िया में गामे खा़ं के घर पहुंच गया। उस समय घर में मौजूद अकरम व गौरु ने अंदर जाकर अलमारी व काउंटर देखने की बात कहने लगा। वह कमरे के अंदर गया तो गाहडू निवासी रसीदा बीबी नाम की महिला अंदर बैठी थी। वह पानी का गिलास लेकर अंदर आ आई। आरोपितों ने प्लानिंग के अनुसार राठीखेड़ा निवासी मोमन खां नाम का व्यक्ति वहां आया और मारपीट करने लगा तथा इसी बीच छुपी हुई दो महिलाएं आई और कपड़े उतार कर मोबाइल से अश्लील वीडियो बनाकर तेजधार चाकू से धमकाया कि आपत्तिजनक वीडियो को वायरल कर देगें। दस लाख रुपए नहीं देने पर बलात्कार का झूठा केस दर्ज करवाने की धमकी दी। इसके बाद 30 हजार रुपए में बात तय हुई तथा आरोपितों ने उसकी बाइक भी छिन ली। पास में एटीएम कार्ड नहीं होने पर किराए के लिए 30 रुपये देकर आंखों पर पट्टी बांधकर हनुमानगढ़ रोड पर छोड़ दिया। सुबह रुपए लेकर आने के बाद आपत्तिजनक वीडियो डिलीट करने की बात कहीं। सूचना मिलने पर पुलिस ने पीड़ित काे 30 हजार रुपए में तय हुई बात के बाद 20 हजार रुपए देकर पीरकामड़िया में गया। इस बीच सादी वर्दी में पुलिस मौके पर पहुंची और गिरोह के सदस्यों को पकड़ लिया। आरोपियों ने छुड़ाकर भागने की कोशिश की लेकिन पुलिस जवानों ने आरोपितों को दबोच लिया। पुलिस की इस त्वरित कार्रवाई से आरोपी गिरफ्तार हो गए।