स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

हेल्थ के लिए अच्छी हैं ये खास तरह की चाय

Shalini Agarwal

Publish: Aug 25, 2019 13:35 PM | Updated: Aug 25, 2019 13:35 PM

Jaipur

हर्बल टी में एंटी बैक्टीरियल एवं एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो गंभीर रोगों की आशंका दूर करते हैं

हर्बल टी स्वादिष्ट होने के साथ ही शरीर में तरल पदार्थों का स्तर बढ़ाने का भी सबसे आसान तरीका है। इस चाय से आप शरीर में अतिरिक्त न्यूट्रिशंस की पूर्ति भी कर सकते हैं। इसे कॉफी से ज्यादा लाभकारी माना गया है। विस्कोनसिन यूनिवर्सिटी के एक शोध से सामने आया कि दुनिया भर में लोकप्रिय इस चाय में स्वास्थ्यवर्धक तत्व होते हैं। कुछ अन्य अध्ययनों के अनुसार हर्बल टी कैंसर, डायबिटीज और दिल के रोगों में भी राहत देने काम करती है। दरअसल, हर्बल टी में एंटी ऑक्सीडेंट्स होते हैं, जो गंभीर रोगों की रोकथाम में कारगर हैं। साथ ही शरीर में से टॉक्सिंस को भी बाहर निकालने का काम करती है। रोजाना हर्बल चाय के सेवन से मेटाबॉलिज्म भी ठीक रहेगा। जानते हैं ऐसी पावरफुल हर्बल टी के बारे में...

कैमोमाइल टी
दुनियाभर में इस चाय का सबसे ज्यादा सेवन किया जाता है। कैमोमाइल के फूलों की नेचुरल मिठास एवं एप्पल फ्लेवर तनाव दूर करने में कारगर है। कैमोमाइल को मैग्नीशियम का भी अच्छा सोर्स माना गया है। यह बॉडी को रिलैक्स करने के साथ ही पिंक आई की समस्या को भी दूर करती है। इस चाय के सेवन से हार्ट संबंधी समस्याओं की भी रोकथाम की जा सकती है। इस तरह हार्ट हेल्दी भी है ये टी।

रेसबैरी लीफ टी
हाई न्यूट्रिशंस वाली यह चाय महिलाओं के लिए विशेष फायदेमंद होती है। यह हार्मोंस को बैलेंस करने के साथ ही त्वचा के लिए भी लाभकारी है। चिकित्सक की सलाह से आप गर्भावस्था के दौरान इस चाय का सेवन कर सकते हैं। यह मैग्नीशियम, पोटेशियम एवं विटामिन बी का अच्छा स्रोत है।

पिपरमेंट टी
एब्डोमिनल गैस एवं ब्लोटिंग के लक्षणों को कम करने के लिए पुदीने की चाय बहुत कारगर है। इतना ही नहीं, मसल्स स्पाज्म की समस्या से राहत पाने में भी यह चाय उपयोगी हो सकती है। पुदीने की चाय में पाए जाने वाले पोषक तत्व शरीर को कई तरह के रोगों से बचाने में लाभकारी हो सकते हैं।

जिंजर टी
जिंजर टी न सिर्फ सर्दी-जुकाम की समस्याओं से राहत देती है, बल्कि गठिया में दर्द और सूजन को भी कम किया जा सकता है। कुछ अध्ययनों के अनुसार अदरक में कोशिकाओं की सूजन को कम करने का गुण होता है। पेट संबंधी समस्याओं से राहत पाने में भी इस चाय को लाभकारी माना जाता है। मुधमेह रोगियों को भी जिंजर हर्बल टी का सेवन करना चाहिए।

इस बात का ध्यान रखें
जड़ी-बूटियों से बनी हर्बल टी स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद होती है लेकिन किसी खास अवस्था जैसे गर्भावस्था एवं किसी रोग की स्थिति में हर्बल टी का सेवन करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य ले लें। यदि आपको किसी जड़ी-बूटी से एलर्जी है तो उससे बनी चाय का सेवन करने से बचना चाहिए। व्हाइट टी का ज्यादा सेवन करना स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक हो सकता है।