स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राजस्थान के कई जिलों में जमकर बरसे मेघ, भारी बारिश से नदी नालों में आया उफान

anandi lal

Publish: Aug 01, 2019 17:21 PM | Updated: Aug 01, 2019 17:21 PM

Jaipur

राजस्थान के कई जिलों में जमकर बरसे मेघ, भारी बारिश से नदी नालों में आया उफान

जयपुर। राजस्थान के कई जिलों में झमाझम बारिश ( Heavy Rain in Rajasthan) का दौर वापस शुरू हो गया है। प्रदेश में भारी बारिश से नदी-नाले उफान पर हैं। अजमेर, पुष्कर, बीकानेर, जालौर सहित कई जगह गुरूवार को मेघ मेहरबान रहे। इन इलाकों में बरसात होने से मौसम खुशनुमा हो गया। इससे पहले मौसम विभाग ने भारी बारिश को लेकर प्रदेश में अलर्ट जारी किया था।

अजमेर जिले के पुष्कर में गुरुवार को 2 घंटे तक लगातार भारी बारिश का दौर चला। मूसलाधार बारिश ( Heavy Rain in Pushkar ) ने 33 वर्षों का रिकॉर्ड तोड़ डाला है। दरअसल, 33 सालों के बाद पुष्कर सरोवर जलमग्न हो गया। लबालब भरे सरोवर में 8 फीट पानी की आवक हुई है। इसके साथ ही अब जलस्तर बढ़कर 20-21 फुट हो गया है। नाग पहाड़ी से नदी उफान पर हैं। बरसात से आनासागर झील ( anasagar lake ) पानी से छलक उठी है। पहली बार झील 13 फीट भराव क्षमता को पारकर 14 फीट 11 इंच के रिकॉर्ड पर पहुंच गई। पानी की आवक जारी होने से झील के चैनल गेट खोलने का फिलहाल कोई फैसला नहीं लिया गया है।

 

बीकानेर और जालोर में बरसे बदरा

बीकानेर जिले के महाजन में मेघ मेहरबान रहे। पिछले कई दिनों से पड़ रही गर्मी और उमस से बारिश ने लोगों को राहत दी है। गुरुवार दोपहर आसमान में घने बादल छा गए। इसके बाद तेज हवाओं के साथ बारिश का दौर शुरू हो गया। मूसलाधार बारिश के बाद लोगों को गर्मी से राहत मिली। तेज बारिश के बाद निचले इलाकों में पानी भर गया। वही बारिश के बाद आसपास के विधुतापूर्ती ठप हो गयी। लूणकरनसर में भी बारिश लूणकरनसर समेत तहसील के गांवों में गुरुवार दोपहर बाद सावन के बादल बरसने से मौसम खुशनुमा हो गया। दोपहर बाद शुरू हुई मूसलाधार बारिश से सड़कों व गलियों में पानी भर गया। तहसील के ग्राम राजपुराहुडान, किसनासर, नाथवाणा, कालवास, हरियासर आदि गांवों में जमकर बादल बरसे।

जालोर जिले में गुरुवार को मौसम का मिजाज अचानक बदल गया। सवेरे रानीवाड़ा भीनमाल और जसवंतपुरा क्षेत्र में बारिश हुई बारिश से नदी नालों में पानी का बहाव हुआ इस दौरान मुडतरा का गांव के निकट नाले में भी बारिश के बाद पानी बह निकला। झालावाड़ में बारिश के बाद तालाबों पर चादर चल पड़ी।