स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

Hanuman Beniwal बोले, 'राजस्थान में कहीं इस फिल्म से कानून व्यवस्था ना बिगड़ जाए'

Nakul Devarshi

Publish: Dec 08, 2019 15:32 PM | Updated: Dec 08, 2019 15:32 PM

Jaipur

नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ( Hanuman Beniwal ) ने इस शुक्रवार को रिलीज़ हुई फिल्म पानीपत ( Film Panipat ) को लेकर राजस्थान में कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका जताई है।

जयपुर।

नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल ( hanuman beniwal ) ने इस शुक्रवार को रिलीज़ हुई फिल्म पानीपत ( Film panipat ) को लेकर राजस्थान में कानून व्यवस्था बिगड़ने की आशंका जताई है। बेनीवाल ने ट्वीट करते हुए फिल्म के विवादित हिस्सों पर सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ( Prakash Javdekar ) और सेन्ट्रल बोर्ड ऑफ़ फिल्म सर्टिफिकेशन अध्यक्ष प्रसून जोशी ( CBFC Chairman Prasoon Joshi ) का ध्यान आकर्षित किया है।


सांसद बेनीवाल ने ट्वीट में एक न्यूज़ आर्टिकल को शेयर करते हुए लिखा, 'मैं सीबीएफसी, प्रकाश जावड़ेकर और प्रसून जोशी से फिल्म पानीपत से जुड़े विवादित मामले को देखने की दरख्वास्त करता हूं। कृपया इसे देखें ताकि प्रदर्शन और कानून व्यवस्था की स्थिति ना बिगड़े। कोई भी फिल्म और कला इतिहास को गलत तरीके से पेश नहीं कर सकती।

[MORE_ADVERTISE1] [MORE_ADVERTISE2]

राजस्थान में हो रहे हैं प्रदर्शन

फिल्म पानीपत को लेकर राजस्थान के कुछ हिस्सों के विरोध में लोग सडकों पर उतर आये। भरतपुर और श्रीगंगानगर सहित अन्य ज़िलों में प्रदर्शन करते हुए लोगों ने फिल्म निर्माता आशुतोष गोवारिकर के पुतले भी जलाये।

ये है आपत्ति

विरोध जताने वालों का आरोप है कि फिल्म पानीपत में महाराजा सूरजमल को गलत ढंग से प्रदर्शित किया गया है। उनकी दलील है कि फिल्म में महाराजा सूरजमल को हमलावर अफगानों के खिलाफ मराठों की मदद करते हुए दिखाया गया है। इसके बदले में उनकी मांग पूरी नहीं हुई तो उन्होंने सदाशिव को लड़ाई में साथ देने से इनकार कर दिया।

दलील ये भी दी गई है कि फिल्म में स्थानीय लोगों को राजस्थानी और हरियाणवी बोलते हुए दिखाया गया हैl जबकि उस समय स्थानीय लोगों द्वारा ब्रज भाषा बोली जाती थी। यह तथ्यात्मक गलती है।

संजय दत्त, अर्जुन कपूर और कृति सनन अभिनीत फिल्म ‘पानीपत-द ग्रेट बिट्रेयल’ की कहानी पानीपत की तीसरी लड़ाई को बयां करती है। फिल्म में अर्जुन कपूर ने पेशवा सदाशिवराव भाऊ का किरदार निभाया है। वहीं संजय दत्त ने अहमद शाह अब्दाली के रोल में जान डाल दी है। ये एक नेगेटिव रोल था, जिसे संजू बाबा ने बखूबी निभाया है।

फिल्म का निर्देशन आशुतोष गोवारिकर ने किया है। 173.22 मिनट की यह फिल्म लोगों को पसंद आ रही है। लेकिन जब इस फिल्म का ट्रेलर रिलीज हुआ था, तो अर्जुन कपूर लेकर खूब मीम्स बने थे।

[MORE_ADVERTISE3]