स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थियों की होगी दोहरी जांच

Sunil Singh Sisodia

Publish: Dec 11, 2019 10:39 AM | Updated: Dec 11, 2019 10:39 AM

Jaipur

पहले उचित मूल्य दुकानदार देंगे रिपोर्ट, फिर जिला रसद अधिकारी कराएंगे जांच, योजना में लगातार मिल रही हैं अपात्र लोगों के नाम जुडऩे की जानकारी

 

जयपुर।

राज्य सरकार राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थियों की दोहरी जांच कराएगी। इसको लेकर खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग के शासन सचिव सिद्धार्थ महाजन की ओर से आदेश जारी कर सभी जिला रसद अधिकारियों को निर्देश दिए गए हैं।

आदेश के मुताबिक राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में शामिल परिवारों का सर्वे कराया जा रहा है। योजना में ऐसे परिवारों के भी नाम जुड़े होने की खबरें आ रही हैं, जो पात्र नहीं हैं। इसको देखते हुए सबसे पहले उचित मूल्य दुकानदारों से निर्धारित परिपत्र में योजना के लाभार्थियों की जानकारी ली जा रही है।

सभी दुकानदार प्रपत्र (अ) में सर्वे रिपोर्ट देंगे। इस रिपोर्ट के आधार पर अपात्र दर्शाए जाने वाले लाभार्थियों की सूची जिला रसद अधिकारी कार्यालय की ओर से अलग से बनाकर दुकानदारों की रिपोर्ट को सीलबंद लिफाफे में रखा जाएगा।

जिला रसद अधिकारी कार्यालय की ओर से अपात्र लाभार्थियों की तैयार सूची के आधार पर संबंधित ग्राम विकास अधिकारी, पटवारी, जिला रसद कार्यालय के प्रवर्तन अधिकारी से पुन: जांच कराई जाएगी। उसके बाद अपात्र लाभार्थियों को राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा सूची से हटाने की कार्रवाई होगी।

बताया जा रहा है कि दोहरी जांच इसलिए कराई जा रही है। जिससे कि कोई भी पात्र लाभार्थी योजना से वंचित नहीं हो सके और अपात्र लाभार्थियों को योजना से बाहर किया जा सके। इस संबंध में हाल ही खाद्य एंव नागरिक आपूर्ति मंत्री रमेश मीणा ने कार्रवाई के निर्देश दिए थे। बताया गया था कि कई सरकारी कर्मचारी भी योजना से जुड़े हुए हैैं। ऐसे कार्मिकों के खिलाफ संबंधित विभागों को कार्रवाई करने के लिए कहा जाएगा।
---

[MORE_ADVERTISE1]