स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

12 वर्षों के भीतर अंतरिक्ष में जन्म लेगा पहला बच्चा

Vijayendra Kumar Rai

Publish: Oct 17, 2019 01:39 AM | Updated: Oct 17, 2019 01:39 AM

Jaipur

डॉ. एडोलबर्क ने बताया कि मैं चाहता हूं कि महिलाएं अंतरिक्ष में जाएं और वहां अपने बच्चों को जन्म दें।

इस योजना की सफलता के लिए हमने 2031 तक का समय निर्धारित किया है।

बर्लिन. अगले 12 वर्षों के भीतर अंतरिक्ष में बच्चों का जन्म संभव हो सकेगा जिसकी तैयारी जोरों पर है।
इसका दावा स्टार्टअप कंपनी स्पेसबर्न यूनाइटेड के संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी डॉ. एगबर्ट एडोलबर्क ने किया है। जर्मनी के डार्मस्टेड में द स्पेस नेशन असगर्डिया के द्वारा आयोजित पहले अंतरिक्ष और विज्ञान कांग्रेस में डॉ. एडोलबर्क ने बताया कि हमारी कंपनी स्पेसबर्न यूनाइटेड इस योजना पर काम कर रही है। मैं चाहता हूं कि महिलाएं अंतरिक्ष में जाएं और वहां अपने बच्चों को जन्म दें। इस योजना की सफलता के लिए हमने 2031 तक का समय निर्धारित किया है। बता दें कि स्पेसबर्न यूनाइटेड अंतरिक्ष में मानव प्रजनन के लिए स्थितियों पर शोध कार्य कर रही है। उन्होंने कहा कि इसके लिए एक विशेष सुविधाओं से एयरक्राट भी बनेगा जिससे पूरी प्रक्रिया आसानी से संभव हो सकेगी। महिलाएं अंतरिक्ष में जाएंगी और वहां बच्चों का जन्म संभव हो सकेगा।

24 से 36 घंटे का होगा मिशन
डॉ एडोलबर्क ने बताया कि हमारा मिशन 24 से 36 घंटे तक का ही होगा। हम नहीं चाहते कि गर्भवती महिला ज्यादा से ज्यादा समय तक अंतरिक्ष में रहे। हम सिर्फ प्रसव पीड़ा होने से लेकर बच्चे के जन्म होने तक के ही आधार पर प्रोजेक्ट को डिजाइन कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि यह केवल लॉअर अर्थ ऑर्बिट (एलईओ) पर ही संभव है। बता दें कि एलईओ 2 हजार या उससे कम ऊंचाई के साथ एक पृथ्वी केंद्रित कक्षा है।

चूहों पर शोध सफल
नासा ने 1997 में अंतरिक्ष में गर्भवती चूहों पर शोध किया था। तब वैज्ञानिकों को इसमें सफलता मिली थी। माइक्रोग्रेविटी के संपर्क में आने के बाद चूहों पर प्रजनन के दौरान कोई समस्या नहीं आई।

ये बातें हैं जरूरी
30 महिला प्रतिभागियों के होने पर ही योजना को सफल बनाने की दिशा में काम संभव है।
स्पेश टूरिज्म (अंतरिक्ष पर्यटन) के क्षेत्र में फंडिंग से ही 12 साल में पूरी हो सकेगी योजना।