स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

अब हूपर में कचरा डालना है तो पालन करने होंगे यह नियम, निगम की बैठक में हुआ यह निर्णय

Pushpendra Singh Shekhawat

Publish: Dec 05, 2019 19:34 PM | Updated: Dec 05, 2019 19:34 PM

Jaipur

नगर निगम के सभासद भवन में हुई बैठक में लिए गए निर्णय, हूपर में बैठे कर्मचारी लोगों से कहेंगे: गीला-सूखा कचरा अलग-अलग डालें, अकेले पांच सौ अंक घर-घर कचरा संग्रहण और निस्तारण के हैं अंक

अश्विनी भदौरिया / जयपुर. स्वच्छता सर्वेक्षण में घर-घर कचरा संग्रहण ( Door to Door garbage Collection ) और इसके निस्तारण की महत्वर्णू भूमिका है। इसके लिए अब कचरा ( Garbage ) उठाने वाली बीवीजी कम्पनी ( BVG Company ) कचरा उठाने वाली गाड़ी में कर्मचारियों को बैठाएगी और वो कर्मचारी अलग-अलग कचरा डालने के लिए शहवासियों को प्रेरित करेगा। पांच सौ अंक इसी के हैं। नगर निगम ( Nagar Nigam ) के सभासद भवन में गुरुवार को हुई बैठक में अतिरिक्त आयुक्त अरुण गर्ग ने निर्देश दिए।

जिम्मेदारी निभाना चुनौती

निर्देश 01- सभी वार्डों में घर-घर कचरा संग्रहण की व्यवस्था हो

मौजूदा स्थिति- लाख कोशिश करने के बाद भी निगम अधिकारी इस व्यवस्था का अब तक शुरू नहीं करा पाए।

निर्देश 02- हर कचरा उठाने वाली गाड़ी में लाउड स्पीकर चालू रहे, गीले-सूखे कचरे के लिए अलग-अलग कचरा डालने की व्यवस्था हो।

मौजूदा स्थिति: चार माह से निगम की ओर से यह प्रयास किए जा रहे हैं, लेकिन 550 कचरा डालने वाली गाडिय़ों में से 50 गाडिय़ों में भी यह व्यवस्था नहीं हो पाई है।


निर्देश 03- सभी कचरा उठाने वाली गाडिय़ां वीटीएस सिस्टम और जियो फैन्सिंग सिस्टम काम करें।

मौजूदा स्थिति: इसमें भी दो-तीन माह से सुधार हो रहा है, लेकिन अब तक सब कुछ ठीक नहीं हो पाया है।

इन पर भी हुई चर्चा
-वाहन चालक और सहायक निश्चित ड्रेस कोड में हो।

-कचरा उठाने वाली गाड़ी पर कवर लगा हो।

-कचरा उठाने के लिए गाडिय़ों की संख्या में इजाफा किया जाए और उनके फेरे बढ़ाए जाएं।

सफाई कर्मचारियों की भूमिका महत्वपूर्ण

-बैठक में मुख्य सफाई निरीक्षको और सफाई निरीक्षकों से बेहतर तरीके से काम करने को कहा। खुले में कचरा एकत्र नहीं हो। गंदगी फैलाने वालों और प्लास्टिक का प्रयोग करने वालों पर सख्त कार्रवाई की जाए। मुख्य बाजारों में सड़क के दोनों ओर लगे कचरा पात्र 24 घंटेे में एक बार अवश्य साफ होने चाहिए।


-फल और सब्जी मंडी में कचरा पात्र रखे होने चाहिए। ऐसे स्थान, जहां पर लोगों की आवाजाही अधिक रहती है और पर्यटन स्थलों के आस-पास सफाई के लिए विषेश व्यवस्था की जाए।

[MORE_ADVERTISE1]