स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

बिजली चोरी-छीजत बढ़ने से घबराया Discom, लाया सम्मानित करने का फॉर्मूला

Bhavnesh Gupta

Publish: Dec 07, 2019 13:05 PM | Updated: Dec 07, 2019 13:05 PM

Jaipur

#JaipurDiscom

जयपुर। बिजली चोरी व छीजत को रोकने में नाकाम जयपुर डिस्कॉम अब सम्मानित करने फार्मूला लाया है। छीजत का ग्राफ कम करने वाले अभियंताओं को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया जाएगा। साथ ही उनके काम का बखान भी होगा। जबकि, इसका आंकड़ा बढ़ा तो कार्रवाई होगी। इसके लिए अधीक्षण अभियंता की जिम्मेदारी तय कर दी है। खास यह है कि डिस्कॉम ने विद्युत विनियामक आयोग में दायर टैरिफ याचिका में बिजली चोरी-छीजत 21 से घटाकर 16 फीसदी पर लाने का दावा किया। जबकि, इसके उलट पिछले चार माह में ही राज्य में 4 फीसदी से ज्यादा छीजत बढ़ गई। इसके बाद से प्रबंधन में खलबली मची है।

बिजली चोरी रोकने के इस तरह निर्देश
-विजीलेंस चैकिंग नियमित व प्रभावी तरीके से हो
-खराब मीटरों को समय पर बदलें
-जिन कृृषि उपभोक्ताओं के मीटर डिफेक्टिव होने की वजह से फ्लेट रेट पर बिलिंग हो रही है उनके मीटर को तत्काल बदलें जाएंगे
-रिपोर्ट में चोरी होना पाया जाए तो पहले वीसीआर भरें
-नए कनेक्शनधारी का पहला बिल जारी करने में देर नहीं हो

उत्कृृष्ट कार्य के लिए सम्मानित होगे अभियंता
गूगल मैप में 11केवी व 33केवी लाइन का मैप डिजिटलाइजेशन करने के लिए अभियंता सम्मानित होंगे। इनमें जयपुर शहर वृृत के कनिष्ठ अभियंता कार्तिकेय शर्मा व छीजत कम करने तथा अन्य कार्य के लिए कलवाडा के सहायक अभियंता बालाराम चौधरी को चुना गया। वहीं, भरतपुर वृृत में डीग के सहायक अभियंता अनुराग शर्मा, टोंक सर्किल में एन.डी. शेख, कोटा सर्किल में के.के.बंसल, बूंदी सर्किल में सहायक अभियंता डी.डी. मीना हैं। बांरा सर्किल में कनिष्ठ अभियंता विकास पटेल, झालावाड़ सर्किल में कनिष्ठ अभियंता उत्कर्षा, दौसा सर्किल में सहायक अभियंता मनोज गुप्ता, करौली सर्किल में सहायक अभियंता रामकेश मीना, सवाईमाधोपुर सर्किल में रामदेव बैरवा, धौलपुर सर्किल में कनिष्ठ अभियंता योगेश कुमार व अलवर सर्किल में सहायक अभियंता अकबर सिंह शामिल हैं।

[MORE_ADVERTISE1]