स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

केरल, मुंबई, हैदराबाद में मिले कोरोना वायरस के 10 संदिग्ध, सभी भर्ती

Anoop Singh

Publish: Jan 25, 2020 01:13 AM | Updated: Jan 25, 2020 01:13 AM

Jaipur

अलर्ट: केरल में चीन से लौटे 73 अन्य लोगों घर पर ही रहने के निर्देश

 

नई दिल्ली. चीन के 13 शहरों में फैले नए तरह के जानलेवा कोरोना वायरस ने संभवत: भारत में भी दस्तक दे दी है। देश के तीन राज्यों में कोरोना वायरस से पीडि़त होने के लक्षण मिलने पर 10 लोगों को आइसोलेशन वार्डों में भर्ती कराया गया है। इनमें सात संदिग्ध केरल में, दो मुंबई में और एक हैदराबाद में मिले हैं। ये सभी हाल ही में चीन से लौटे हैं। सभी को कड़ी निगरानी में रखकर अन्य जांचें की जा रही हैं।
केरल में कोरोना वायरस के लक्षण वाले संदिग्धों में से तीन राजधानी तिरुवनंतपुरम में और एक-एक कोच्ची, त्रिशूर, कोझीकोड व पठानमथिट्टा में मिले हैं।
यही नहीं केरल में 73 लोगों को उनके घरों पर ही चिकित्सीय निगरानी में रखा गया है। सरकार ने इन सभी को चीन से लौटने की तारीख से 28 दिनों तक अपने घरों में ही रहने का निर्देश दिया है। मुंबई में मिले दोनों संदिग्ध मरीजों को कस्तूरबा अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। दोनों के अन्य परीक्षण चल रहे हैं। मुंबई हवाईअड्डे पर चीन से लौटे 1789 यात्रियों को थर्मल स्क्रीनिंग की गई है। बीएमसी की स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. पद्मजा ने बताया कि मुंबई के अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर तैनात डॉक्टरों से चीन से लौटने वाले किसी भी यात्री में कोरोना वायरस से पीडि़तों के लक्षण मिलने पर तुरंत ही आइसोलेशन वार्ड में भेजने के निर्देश दिए गए हैं।
निजी अस्पतालों को भी किया अलर्ट
मुंबई के सभी निजी अस्पतालों से भी किसी भी मरीज में (खासतौर पर हाल ही में चीन से लौटने वाले लोगों में) कोरोना वायरस के लक्षण मिलने पर फौरन मुंबई नगर निगम को सूचित करने के निर्देश दिए गए हैं।
पुणे में आइसोलेशन वार्ड तैयार
कोरोना वायरस के दो संदिग्ध पीडि़तों के मिलने के बाद मुंबई के करीबी पुणे में स्थानीय प्रशासन को अलर्ट कर दिया गया है। पुणे के नायडु अस्पताल में कोरोना वायरस के संदिग्ध मरीजों के लिए आइसोलेशन वार्ड बनाया गया है।
केरल: चार हवाई अड्डों पर अलर्ट
केरल सरकार ने चारों अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर थर्मल स्क्रीङ्क्षनग व एतिहात के इंतजाम करने के निर्देश जारी किए हैं। संदिग्ध यात्री को कलमासरी के मेडिकल कॉलेज ले जाने के लिए एंबुलेंस तैनात की गई है।
चीन में भारतीय टीचर को चाहिए एक करोड़
चीन में कोरोना वायरस से पीडि़त पहली भारतीय एक शिक्षक हैं। वह शेनजेन प्रांत में एक इंटरनेशनल स्कूल में शिक्षक हैं। इन्हें वहां इलाज के लिए एक करोड़ रुपए चाहिए। उनके भाई ने बीजिंग में भारतीय दूतावास से मदद मांगी है। वहीं, 'इपैक्ट गुरुÓ ने अब तक उनके लिए 15.27 लाख रुपए जमा किए हैं।
वुहान से लौटे 25 छात्रों की भी निगरानी
बीजिंग में भारतीय दूतावास से मिली जानकारी के बाद चीन के वुहान शहर से लौटे 25 भारतीय छात्रों पर अलग-अलग शहरों में निगाह रखी जा रही है। उनकी जानकारी जिला स्तर के स्वास्थ्य अधिकारियों को दी गई है।
अब तक 20,844 की थर्मल स्क्रीनिंग
देश के सात अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डों पर (दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, बेंगलूरु, हैदराबाद और कोच्ची) में 24 जनवरी तक चीन व हांगकांग से लौटे कुल 20,844 यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग की गई है।
सऊदी अरब में पीडि़त नर्स कोरोना से पीडि़त नहीं
सऊदी अरब में काम कर रही केरल की नर्स कोरोना की बजाय किसी और वायरस से संक्रमित है। जेद्दा स्थित भारतीय काउन्सुलेट ने स्पष्ट किया कि नर्स मिडिल-ईस्ट रेसपिरेटरी सिंड्रोम-कोरोना वायरस से पीडि़त है न कि 2019-नॉवेल कोरोना वायरस से। सऊदी अरब के स्वास्थ्य मंत्रालय ने स्पष्ट किया है कि उनके देश में कोरोना वायरस से कोई भी पीडि़त नहीं है। इससे पहले गुरुवार को विदेश राज्यमंत्री वी. मुरलीधरन ने ट्वीट किया था कि सऊदी अरब के अल हयात अस्पताल में काम करने वाली एक केरल की नर्स में कोरोना वायरस से लक्षण पाए गए हैं।
कोरोना वायरस के सामान्य लक्षण
अपने आप में नए तरह के कोरोना वायरस से पीडि़तों के सामान्य लक्षण आम खांसी-जुकाम जैसे ही होते हैं। डब्लूएचओ के अनुसार, इन लक्षणों में बुखार आना, ठीक से सांस न ले पाना, नाक बहना आदि शामिल हैं।

[MORE_ADVERTISE1]