स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

सर्द हवाओं से धूज रहा राजस्थान, खून पसीने की कमाई को बचाने की जुगत में लगे किसान

Dinesh Saini

Publish: Dec 06, 2019 12:07 PM | Updated: Dec 06, 2019 12:09 PM

Jaipur

प्रदेश में सर्दी अब तेवर दिखाने लगी है। फतेहपुर आज भी प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान बना हुआ है। फतेहपुर में ( rajasthan weather forecast ) बीती रात न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। फतेहपुर ( Fatehpur ) में बीती रात पारे में 0.8 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है...

जयपुर। प्रदेश में सर्दी अब तेवर दिखाने लगी है। फतेहपुर आज भी प्रदेश का सबसे ठंडा स्थान बना हुआ है। फतेहपुर में ( Rajasthan Weather forecast ) बीती रात न्यूनतम तापमान 3.2 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। फतेहपुर ( Fatehpur ) में बीती रात पारे में 0.8 डिग्री सेल्सियस की गिरावट आई है। प्रदेश में आधा दर्जन जिले ऐसे हैं जहां पर रात में तापमान 10 डिग्री सेल्सियस या उससे कम दर्ज किया गया है। राजस्थान में आने वाले कुछ दिनों में सर्दी ओर जोर पकड़ेगी। मौसम विभाग ( IMD ) के मुताबिक सर्द हवाओं के कारण तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है। राजधानी जयपुर में बीती रात न्यूनतम तापमान 10 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया।

जबकि कल दिन का अधिकतम तापमान 25.4 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया। मौसम विभाग का अनुमान है कि आज दिन का तापमान कल के मुकाबले कम रह सकता है। आज अधिकतम तापमान 23 डिग्री के आसपास रहने की संभावना है। जयपुर में इस वक्त उत्तर—पूर्वी हवाएं चल रही है। हवा की गति आज सुबह 3 किलोमीटर प्रति घंटा रही, जो दोपहर में बढक़र 6 किलोमीटर प्रति घंटे तक हो सकती है। मौसम विभाग ने पंजाब में बने चक्रवाती तंत्र के असर से जयपुर में बादलवाही रहने के आसार बताए हैं।


वहीं शेखावाटी में सर्दी ने कहर मचा रखा है। जिसके चलते किसान अपनी खून पसीने की कमाई को बचाने की जुगत में लगे हुए हैं। सीकर के पास झिगर छोटी के किसान ने अपने खेत में फसल की सुरक्षा के लिए 5 बीघा में लो-टनल लगाई है। जिससे कड़ाके की सर्दी से फ सलों को बचाया जा सके। मध्यरात्रि से अलसुबह तक तेज सर्दी के कारण खेतों में फसलों पर ओंस की बूंदे जमने लगी है। लोग सुबह अलाव का सहारा लेते नजर आ रहे हैं। पिछले कई दिनों से खेतों में बर्फ की हल्की चादर भी नजर आ रही है। फसलों की सिंचाई के पाइपों में पानी जमने लगा है। दिन में तेज धूप खिल रही है लेकिन नम हवाएं शूल सी चुभ रही हैं। सूर्योदय के बाद हवाओं का रुख बदल रहा लेकिन दिन ढ़लते ही सर्दी का शिकंजा कसता जा रहा है।

[MORE_ADVERTISE1]