स्लो इंटरनेट स्पीड होने पर आपको पत्रिका लाइट में शिफ्ट कर दिया गया है ।
नॉर्मल साइट पर जाने के लिए क्लिक करें ।

खुली लिफ्ट में फंसने से बालक की मौत

Lalit Tiwari

Publish: Oct 14, 2019 21:13 PM | Updated: Oct 14, 2019 21:13 PM

Jaipur

चित्रकूट थाना इलाके में स्वामी नारायण चित्रकूट थाना इलाके में स्वामी नारायण मंदिर में खुली लिफ्ट में फंसने से एक दस साल के बच्चे की मौत हो गई....

चित्रकूट थाना इलाके में स्वामी नारायण मंदिर में खुली लिफ्ट में फंसने से एक दस साल के बच्चे की मौत हो गई। मृतक के पिता ने इस संबंध में मंदिर प्रशासन के खिलाफ लापरवाही और गैर इरादतन हत्या का मामला दर्ज करवाया हैं। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
थानाप्रभारी वीरेन्द्र ने बताया कि इस संबंध में गोविंद नगर चित्रकूट निवासी दीनदयाल ने थाने में मामला दर्ज करवाया है। जिसमें बताया कि सोमवार को वह अपने निजी काम से गए हुए थे। २ बजकर ५० मिनट पर उनकी माताजी का फोन आया कि विशेष स्वामी नारायण मंदिर की पीछे लगी लिफ्ट में फंसकर खत्म हो गया। इस पर वह मंदिर पहुंचे तो पता चला कि उसे एक निजी अस्पताल में ले गए। दीनदयाल का कहना है कि जब वह अस्पताल पहुंचे तो उनके दस साल का बेटा विशेष तिवाड़ी खून से लथपथ दर्दनाक हालत में मृत पड़ा थआ। पीडि़त का आरोप है कि मंदिर प्रशासन की लापरवाही से उनके बेटे की मौत हुई है। जिस लिफ्ट में विशेष फंसा था, वह लिफ्ट खुली है और वहां मंदिर प्रशासन का कोई गार्ड भी नही है। लिफ्ट तालू हालत में होने के कारण प्रशासन की लापरवाही और गैर इरादतन ह्ताय की है। पीडि़त ने बताया कि उनकी मां और पत्नी की हालत अत्यधिक खराब है। मंदिर प्रशासन ने अपनी इस लापरवाही को छिपाने के लिए सबूत मिटाने के लिए मौके से सभी साक्ष्य हटा दिए और ना पुलिस को इसकी सूचना दी। पुलिस को सूचना नही देना आपराधिक साजिश में आता है। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।